महिला और उसकी नाबालिग़ बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म करने वाले बलात्कारी मंत्री के चक्कर में मुश्किल में पड़े अखिलेश

0
91


लखनऊ : एक महिला और उसकी नाबालिग़ बच्ची के साथ सामूहिक बलात्कार करने के आरोपी यूपी सरकार के कैबिनेट मंत्री गायत्री प्रजापति के चक्कर में अखिलेश यादव और उनकी सरकार की जमकर फ़ज़ीहत हो ही रही थी कि इधर यूपी के गवर्नर ने सीम अखिलेश यादव को एक पत्र लिख उनकी मुसीबत को और बढ़ा दिया है।

आपको बता दें कि प्रदेश के राज्यपाल श्री रामनाइक ने अपनी संवैधानिक ज़िम्मेदारी को संभालते हुए अखिलेश यादव को पत्र लिख आख़िर में पूँछ ही लिया है कि आख़िर इतना सब कुछ हो जाने के बाद भी गायत्री प्रजापति का उनकी कैबिनेट में बने रहने का क्या औचित्य है।

मुख्यमंत्री से माँगा जवाब
चिट्ठी में राज्यपाल राम नाइक ने लिखा है कि, देश की सर्वोच्च न्यायालय ने कैबिनेट मंत्री, श्री गायत्री प्रसाद प्रजापति पर एक महिला तथा उसकी नाबालिग पुत्री के साथ अपने साथियों सहित सामूहिक दुष्कर्म के आरोप को संज्ञान में लेते हुए गैर जमानती वारण्ट जारी किया है। इस प्रकार के मंत्री के कैबिनेट में बने रहने तथा उनके विरूद्ध कोई कार्यवाही नहीं किये जाने से लोकतांत्रिक शुचिता, संवैधानिक मर्यादा व संवैधानिक नैतिकता का गंभीर प्रश्न उत्पन्न होता है। राज्यपाल ने अपने पत्र में कहा है कि मुख्यमंत्री श्री गायत्री प्रसाद प्रजापति के कैबिनेट में बने रहने के औचित्य पर अपने अभिमत से उन्हें शीघ्रातिशीघ्र अवगत कराएं।

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here