मुलायम के गढ़ मैनपुरी में गरजे अखिलेश, भाजपा और पीएम मोदी को लिया आड़े हाथों

0
225

akhilesh

मैनपुरी (ब्यूरो)- यू.पी. चुनाव के दो चरणों का मतदान संपन्न हो चुका है। अब राजनीतिक दल तीसरे चरण की तैयारियों में जोर शोर से जुटे हुए हैं। इसी क्रम में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज मुलायम सिंह यादव के गढ़ मैनपुरी के करहल में जनसभा को संबोधित किया। जिसमें मुख्यमंत्री ने विकास के दावे और वादे कर जनता से वोट मांगे ।

वही आपको यह भी बता देते है कि, मुख्यमंत्री भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी जमकर बरसे। पिछले कई दिनों चलरहे सपा विवाद पर खुलकर बोलते हुए सपा को मुलायम सिंह यादव यानी नेता जी की पार्टी बताया।

मैनपुरी अपना ही घर है-
अखिलेश यादव ने कहा कि मान लो मैनपुरी अपना ही घर है। यहां के लोगों से मिलने आए हैं। उन्होंने कहा कि सपा हमारी नहीं, नेताजी की ही पार्टी है। सपा विवाद का जिक्र करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि राजनीति का रास्ता बहुत टेढ़ा-मेढ़ा होता है। चलते चलते कब खाई में गिर जाओ पता नहीं चलेगा। किसी का नाम लिए बगैर उन्होंने कहा कि कुछ लोगों ने हमारी बहुत परीक्षा ली है। सपा के उलटफेर पर अखिलेश ने कहा कि मजबूरी में यह फैसला लेना पड़ा था, कुर्सी के लिए सबकुछ नहीं किया। समय के हिसाब से किया है।

सपा सरकार की गिनाईं उपलब्धियां-
मुख्यमंत्री ने कहा कि चुनाव में साइकिल का मुकाबला अब कोई नहीं कर सकता है। क्योंकि जनता का सपा के कामों पर भरोसा है। उन्होंने 102, 108 और यूपी 100 का जिक्र करते हुए कहा कि सपा सरकार ने बिना भेदभाव के विकास कार्य कराए हैं। आने वाले दिनों इन कामों का और बेहतर करना है। उन्होंने कहा कि आवारा गायों को रखने का काम करेंगे। उनके चारे का भी इंतजाम किया जाएगा।

नोटबंदी को लेकर कोसा-
मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए अखिलेश ने कहा कि अच्छे दिन वालों ने कितनी तकलीफ में डाल दिया। भाजपा वाले पूछते हैं कि अच्छे दिन नहीं ला पाए। उन्होंने कहा कि यह सपा का नारा नहीं है। अच्छे दिन बोलकर भाजपा वालों ने लाइन में लगा दिया। गरीब जनता को पूरा पैसा जमा दिया। लाइन में कई लोगों की जानें चली गयी। भाजपा ने किसी भी मदद नहीं की। जबकि सपा सरकार ने मृतक के परिजनों को दो दो लाख रुपए मुआवजा दिया। नोटबंदी कर मोदी सरकार ने देश की अर्थव्यवस्था को धोखा दिया है।

पीएम मोदी पर पलटवार-
पीएम नरेंद्र मोदी के सवाल का पलटवार करते हुए अखिलेश ने कहा कि कांग्रेस से गठबंधन पर आरोप लगाए गए। कन्नौज में पीएम मोदी ने लोगों को 84 की याद दिलाई। हम कहते हैं कि इतनी पुरानी बात क्यों याद दिलाते हो हमें फिरोजाबाद वाला किस्सा ही याद दिला देते। जब कांग्रेस के राजबब्बर ने हमें हराया था। उन्होंने कहा कि वो इस तरह की बात इसलिए कर रहे हैं क्योंकि चुनाव उनके हाथों से निकल गया है। उन्होंने कहा कि हमने समाजवादियों में कन्फ्यूजन खत्म करने के लिए यह समझौता किया गया। सांप्रदायिक ताकतों को हटाने के लिए समझौता किया है।

जो अलग हुए वो अलग ही रहें-
विवाद के दौरान सपा से अलग हुए नेताओं पर अखिलेश यादव ने कहा कि अब वो अलग ही रहें। वापस आने का प्रयास न करें। अब उनके लिए सपा में कोई जगह नहीं है। उन्होंने कहा कि जनता से अपील भी की कि अगर कोई ऐसा हो जो अभी पार्टी से अलग हुआ हो और सरकार बनने के बाद शामिल होने का प्रयास करें तो हमें बताना जरूर। वो लोग साइकिल से इसलिए छूट गए कि साइकिल की रफ्तार तेज हो गई है।

रिपोर्ट- प्रमोद कुमार सिंह

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here