जिलाधिकारी ने दिए चुनाव सम्बन्धी सभी निर्देश

0
108
प्रतीकात्मक
प्रतीकात्मक

बलिया(ब्यूरो)– निर्वाचन आयोग की मंशा के अनुरूप विधानसभा चुनाव को निष्पक्ष, स्वतंत्र व निर्भीक रूप से सम्पन्न कराने के लिए आयोग द्वारा भेजे गये सभी 09 प्रेक्षकों ने सभी जोनल व सेक्टर मिजिस्ट्रेटों के साथ बैठक की। सभी प्रेक्षकों ने निर्वाचन प्रक्रिया को आसान बनाने के अपने-अपने सुझाव व जरूरी दिशा निर्देश दिये।कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक में प्रेक्षक गण ने कहा कि जो भी दायित्व दिये गये है उसका निर्वहन निष्पक्ष, ईमानदारी से एवं समयान्तर्गत करें तो निर्वाचन प्रक्रिया आसान लगने लगेगी। मऊ व बलिया के पुलिस प्रेक्षक दीपांकर भट्टाचार्य ने इस बात पर विशेष बल दिया कि जनता निर्भीक होकर अपने मताधिकार का प्रयोग करे। कहा, हथियार जमा कराने पर विशेष बल है। सभी सेक्टर व जोनल अपने अधिकार व कर्तव्य का पालन करें तो निश्चित ही चुनाव सकुशल सम्पन्न होगा। ध्यान रहे, सभी कार्य आयोग की मंशानुरूप ही करना है।
जिलाधिकारी ने कहा कि सेक्टर का दायित्व बहुत ही संवेदनशील है। चुनाव के दिन सभी चुनाव अधिकारियों से समन्वय स्थापित करना, शांति व्यवस्था, बूथ के अंदर व बाहर के कार्य की बड़ी जिम्मेदारी है। जो भी साधन दिये गये है उसका भरपूर प्रयोग कर गतिशील रहना है। विधानसभा क्षेत्र बांसडीह के प्रेक्षक वीके धुर्वे, रसड़ा के शेखर विद्यार्थी, सिकंदरपुर के कैलाश बैरवा, बैरिया के बलराम जी पवार, बेल्थरारोड के हिमांशु शेखर चौधरी, फेफना विस के प्रेक्षक विनोद परशुराम कावले, बलिया नगर के रत्नेश झॉ के अलावा दो व्यय प्रेक्षक संजय कुमार सिंहा व शमशेर अली थे।
जिलाधिकारी ने चुनावी तैयारियों की दी जानकारी|जिलाधिकारी ने चुनाव से पूर्व तैयारियों को भी विस्तार से बताया। कहा कि स्पीप के माध्यम से जागरूक करने का सिलसिला अभी भी जारी है। स्कूल, कालेज में जागरूकता अभियान चलाकर मतदान प्रतिशत बढ़ाने का हरसम्भव प्रयास किया जा रहा है।
इस दौरान 30 हजार नये मतदाताओं को जोड़ा गया। दिव्यांगों को मतदान के प्रति प्रेरित किया जा रहा है।
समाधान व सुविधा पोर्टल के माध्यम से आई शिकायतों का तेजी से निस्तारण किया जा रहा।दस प्रतिशत बूथों पर होगी वेवकास्टिंग प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के दस प्रतिशत बूथों पर वेबकास्टिंग की व्यवस्था होगी। इसके लिए भी प्रेक्षक गण ने जरूरी दिशा निर्देश दिये। कहा, मतदान केंद्र के बाहर व ईवीएम पर सीसीटीवी कैमरे का फोकस नही होना चाहिए। मतदान से एक दिन पूर्व 03 मार्च को ही इसके लिए सभी जरूरी व्यवस्था कर लेने का निर्देश दिया। जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेटों से लिये सुझाव- जिला निर्वाचन अधिकारी व सभी 09 प्रेक्षकों ने बैठक में सभी जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेटों से भी सुझाव लिये। पूछा, किसी की कोई समस्या तो नही। किसी भी समस्या को समय से पहले निपटा लें। सभी रिपोर्ट समय से मुख्यालय को देते रहें। प्रेक्षकों ने सभी आरओ को निर्देश दिया कि सेक्टर व जोनल मजिस्ट्रेट की तहसील स्तर पर भी बैठक कराएं, ताकि विधानसभावार चुनावी तैयारियों की समीक्षा हो सके।

रिपोर्ट-संतोष कुमार शर्मा
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here