डॉ. आंबेडकर ने संविधान के माध्यम से पूरे देश को एक सूत्र में पिरोया – पीएम मोदी

0
92

नई दिल्ली- प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने डाक्टर भीम राव आंबेडकर की 125 वी जयंती पर नागपुर पहुंचे और वहां उन्होने उन्हें श्रधांजलि अर्पित की | डॉ. आंबेडकर को श्रधांजलि ज्ञापित करने के बाद पीएम मोदी ने कहा कि वे एक विश्व मानव थे | उन्होंने गरीब और समाज के सबसे निचले हिस्से के लोगों की सेवा में अपना सम्पूर्ण जीवन अर्पित कर दिया |

पीएम मोदी ने आगे कहा कि बाबा साहब बहुत ही दूरदर्शी शक्शियत थे उन्हें हमेशा एक विचारक, गहन विश्लेषक के तौर पर जाना जाएगा | उन्होंने पूरे भारत को संविधान के जरिये एक जुट किया है |

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने यह सभी बातें दीक्षाभूमि में डॉ. भीमराव आंबेडकर की मूर्ति पर माल्यार्पण करने के बाद कही | वहां मौजूद जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने कहा है की डाक्टर भीमराव आंबेडकर ने अपना पूरा जीवन शोषित और गरीब लोगों के लिए जिया | उनकी हमेशा से ही असली लड़ाई समानता और गरिमा के लिए थी | वह हमेशा ही शिक्षा की शक्ति में भरोषा करते थे |

क्या है दीक्षाभूमि- 
आपको बता दें कि दीक्षाभूमि वह स्थान है जहाँ पर बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर ने वर्ष 1956 में बौद्ध धर्म स्वीकार कर लिया था | डाक्टर आंबेडकर की याद में हर वर्ष यहाँ पर कई कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है | यहाँ पर डॉ. भीमराव के जीवन से सम्बंधित एक विशेष संग्रहालय भी बनवाया गया है | यहाँ पर उनके जीवन से जुडी हुई तमाम स्म्रतियों को सहेज कर रखा गया है जहाँ तमाम लोग इन्हें देखने के लिए आते रहते है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here