धूमधाम से मनायी गई आम्बेडकर की जयंती, कलेक्ट्रेट समेत विभिन्न जगहों पर आयोजित हुई गोष्ठी

0
17

बलिया(ब्यूरो)-  बाबा साहेब डाॅ भीमराव रामजी आंबेडकर जी की 127वीं जयंती जिले भर में धूमधाम से मनाई गई। कलेक्ट्रेट, विकास भवन से लगायत सभी तहसीलों व ब्लाॅकों में गोष्ठियां आयोजित कर आंबेडकर जी के जीवन पर प्रकाश डाला गया। कलेक्ट्रेट सभागार में हुई गोष्ठी का शुभारंभ जिलाधिकारी भवानी सिंह खंगारौत ने दीप जलाकर व बाबा साहेब के चित्र पर माल्यार्पण कर किया।

अपने सम्बोधन में उन्होंने कहा, महापुरूषों की जयंती मनाने की सार्थकता तभी सिद्ध होगी जब हम सब उनके आदर्शों को आत्मसात करेंगे। कहा कि बाबा साहेब का पूरा जीवन उपलब्धियों से भरा रहा। उनका जीवन संघर्ष भरी परिस्थितियों में बीता और उन्होंने छुआछूत के दर्द को झेला। लेकिन बावजूद इसके उन्होंने प्रयास नहीं छोड़ा और अनेक उपलब्धियां हासिल की। उनके पास अनेक भाषाओं का ज्ञान था। संविधान की ड्राफ्टिंग कमेटी के अध्यक्ष बने और विश्व के सबसे बेहतर संविधान को लिखा। ऐसा संविधान, जिससे अन्य देश भी प्रेरणा लेते हैं। उनका प्रयास था कि छोटे तबके के लोगों को समाज में बराबरी का दर्जा मिले।

गोष्ठी में साहित्यकार भोला प्रसाद आग्नेय ने आंबेडकर के जन्म से लेकर मृत्यु तक के बीच की गतिविधियों को बड़े ही सहज भाषा में विस्तार से बताया, जिसकी तारीफ जिलाधिकारी ने भी की। बताया कि छोटी जाति के होने के कारण बाबा साहेब को छुआछूत जैसे अमानवीय व्यवहार का सामना करना पड़ा। वे देश के पहले कानून मंत्री थे। शिवकुमार कौशिकेय ने कहा कि संविधान के प्रति निष्ठा, आदर का भाव रखते हुए उसके हिसाब से चलें तो यही उनके प्रति सच्ची श्रद्धान्जलि होगी। कलेक्ट्रेट संघ के अध्यक्ष कौशल उपाध्याय, पूर्व अध्यक्ष अनिल गुप्ता समेत अन्य वक्ताओं ने बाबा साहेब के जीवन दर्शन पर प्रकाश डाला। संचालन न्याय सहायक विजयकांत श्रीवास्तव ने किया।

आंबेडकर जी का जीवन दर्शन आज भी प्रासंगिक: सीडीओ

बलिया  विकास भवन सभागार में सीडीओ बद्रीनाथ सिंह की अध्यक्षता में आंबेडकर जी की 127वीं जयंती मनाई गई। सूचना विभाग की ओर से आयोजित इस कार्यक्रम में सीडीओ ने कहा कि सामाजिक समरसता के लिए व राष्ट्र निर्माण के लिए आंबेडकर जी का जीवन दर्शन आज भी प्रासंगिक है। उन्होंने समाज के अंतिम पायदान पर मौजूद व्यक्ति के विकास के लिए केंद्र व प्रदेश सरकार की ओर से हो रहे कार्याें की चर्चा की। डीडीओ शशिमौली मिश्रा, सेवायोजन अधिकारी एके पांडेय, दिव्यांग कल्याण अधिकारी केके राय, डीएसटीओ बब्बन मौर्य, गौरीशंकर राम, अविनाश उपाध्याय आदि ने बाबा साहेब के जीवन की घटनाओं पर प्रकाश डाला। संचालन भूमि संरक्षण अधिकारी संजेश श्रीवास्तव ने किया।

अस्पताल में फल वितरण – बलिया  बाबा साहब अम्बेडकर के जयंती के अवसर पर सीएससी ई- गवर्नेन्स सर्विसेज इण्डिया लिमिटेड द्वारा सरकारी अस्पताल में फल वितरण किया गया। साथ ही रक्त दान भी किया गया। जिला प्रबंधक कौशलेंद्र राय समेत अन्य स्टाफ ने अम्बेडकर की मूर्ति का माल्यार्पण किया। अजय कुमार दुबे (जिला प्रबंधक), विजय शुक्ला, आदि मौजूद  रहे।

रिपोर्ट -अजीत ओझा

Advertisements

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here