जाम में फंसी एम्बुलेंस, चार वर्षीय बच्चे की मौत

0
65

मैनपुरी(ब्यूरो)- एक दिन पूर्व नोयडा के सेक्टर 128 में विल्डर के खिलाफ पब्लिक द्वारा लगाये जाम के चलते फिरोजाबाद ट्रामा सेंटर से दिल्ली एम्स के लिए रैफर किये गये मैनपुरी के चार साल के मासूम बच्चे लवकुश की मौत हो गयी थी, उसकी एम्बूलेंस जाम में करीब डेढ़ घंटे तक फंसी रही, परिजन रोड जाम करने वालों और मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों से गुहार लगाते रहे गिड़गिड़तो रहे लेकिन किसी ने उनकी एक न सुनी लिहाजा मासूम ने वहीं पर दम तोड़ दिया, मृतक मासूम का मैनपुरी के गुदेला गांव में अंतिम संस्कार कर दिया गया है, मां और परिजनों का रो रोकर बुरा हाल है, गम में डूबी मां की तबियत ही बिगड़ गयी, उसे निजी चिकित्सक के यहां भर्ती कराया गया है।

मामला जनपद मैनपुरी के थाना घिरोर इलाके गुदेला गांव का है, यहां का रहने वाले चार साल के मासूम लवकुश को कुछ दिन पूर्व फिसलने से चोट लग गयी थी, चोट अंदरूनी होने की बजह से उसकी तिबियत बिगड़ गयी, यहां के चिकित्सकों से उसे फिरोजाबाद ट्रामा सेंटर के लिए रैफर कर दिया, तबियत ज्यादा बिगड़ने पर उसे एक दिन पूर्व फिरोजाबाद से डाक्टरों दिल्ली एम्स के लिए रैफर कर दिया, मासूम लवकुश के परिजन एम्बूलेंस से उसे ले जा रहे थे, उसी समय नोयडा सेक्टर 128 में विल्डर के खिलाफ पब्लिक द्वारा जाम लगाये जाने के कारण लवकुश को ले जा रही एम्बूलेंस जाम में फंस गयी, मासूम लवकुश के पिता और परिजन जाम लगाने वालों और मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों से गिड़गिड़ाते रहे लेकिन किसी ने उनकी एक न सुनी लिहाजा मासूम लवकुश ने वहीं पर दम तोड़ दिया, मृतक मासूम का मैनपुरी के गुदेला गांव में अंतिम संस्कार कर दिया गया है, मां और परिजनों का रो रोकर बुरा हाल है, गम में डूबी मां की तबियत ही बिगड़ गयी, उसे निजी चिकित्सक के यहां भर्ती कराया गया है। मृतक के परिजनों का कहना है कि वह मामले की शिकायत करेंगे जिससे किसी और के साथ ऐसा न हो

रिपोर्ट- प्रमोद झा 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY