गुजरात सीएम अनादिबेन का मुख्यमंत्री पद से स्तीफा, नए नामों पर हो रहा विचार |

0
507

anandi ben patel

साल 2014 में नरेन्द्र मोदी के बाद गुजरात की मुख्यमंत्री बनीं अनादिबेन पटेल ने अपने मुख्यमंत्री पद से स्तीफा दे दिया है, उन्होंने फेसबुक पोस्ट के ज़रिये सार्वजानिक रूप से इस बात की घोषणा की | ऐसे कयास लगाये जा रहे हैं कि जल्द ही वह किसी राज्य की राजपाल बनाई जा सकती हैं |

मुख्यमंत्री के तौर पर उन्होंने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा कि इस साल नवेम्बर में वह 75 वर्ष की हो जाएँगी और अगले साल 2017 में गुजरात में विधासभा चुनाव होने वाले हैं, साथ ही हर दो साल पर होने वाली वाइब्रेंट गुजरात समिट भी जनवरी 2017 में ही होने वाला है, इसलिए वह चाहती हैं कि आने वाले मुख्यमंत्री को पूरा वक़्त मिले | आनंदीबेन के बाद मुख्यमंत्री के लिए विजय रुपानी, पुरुषोत्तम रुपाला और नितिन पटेल के नामों पर चर्चा हो रही है |

2014 में मुख्यमंत्री के तौर पर गुजरात की कमान सँभालने के बाद से ही आनंदीबेन के नेतृत्व पर सवालिया निशान खड़े होने लगे थे | अपने पूरे कार्यकाल में आनंदीबेन को एक के बाद एक मुश्किलों का सामना करना पड़ा, 2015 में हुए पटेल पाटीदार आन्दोलन ने यह साफ़ कर दिया कि प्रशासन पर आनंदीबेन की पकड़ मजबूत नहीं हैंजिसके चलते बीजेपी को काफी साड़ी मुश्किलोंन का सामना भी करना पड़ा और बिहार चुनावों पर भी इसका काफी असर दिखाई दिया |

इसके बाद विपक्षी दल कांग्रेस ने अनादिबेन पर राजस्व मंत्री रहते हुए अपने बेटे को लाभ पहुँचाने का आरोप लगाया, कांग्रेस का आरोप है कि अनादिबेन 2010 में अपनी बेटी के बिजनेस पार्टनर को 125 करोड़ रूपये की जमीन मात्र डेढ़ करोड़ में बेच दी |

आनंदीबेन पर यह भी आरोप लगे कि उनके सरकारी कामकाजों पर उनके बेटे और बेटी का हाश्ताक्षेप रहता है, जिसके बाद्द बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व ने उन्हें अपनी छवि सुधरने के लिए आगाह किया था |

हाल ही में एक नए विवाद ने आनंदीबेन की मुश्किलों को कुछ जयादा ही बढ़ा दिया गुजरात के ऊना में गौरक्षा के नाम पर दलितों पर हुए अत्याचार के मामले में अनादिबें की सरकार काफी फजीहत हुई और राज्य में बीजेपी की छवि को कहस नुकसान हुआ, इस मामले को लेकर विरोधियों ने जमकर बीजेपी और आनंदीबेन पर निशाना साधा |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here