ईमानदारी, लगन और निष्ठा से अपने दायित्वों का निर्वहन करें आंगनबाड़ी कार्यकत्री : अनुपमा जायसवाल

0
190

बहराइच(ब्यूरो)- महिला आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ, उत्तर प्रदेश द्वारा डायण्ड हाल, बहराइच में आयोजित सम्मान समारोह को सम्बोधित करती हुई मुख्य अतिथि प्रदेश की राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) बेसिक शिक्षा, बाल विकास पुष्टाहार, राजस्व एवं वित्त (एमओएस) श्रीमती अनुपमा जायसवाल ने कहा कि विभाग की छवि सुधारने की आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों के कंधों पर बहुत बड़ी जिम्मेदारी है। इसकी शुरूआत बहराइच जनपद से होनी चाहिए।

सभी आंगबाड़ी कार्यकत्री ईमानदारी, लगन और निष्ठा से अपने दायित्वों का निर्वहन करते हुए नियमित रूप से आंगनबाड़ी केन्द्र खोलें और मानक के अनुसार पुष्टाहार का वितरण सुनिश्चित करायें।

उन्होंने कहा कि कुपोषण समाज के लिए कलंक है इसे मिटाने की हमारे आंगनबाड़ी बहनों का बहुत बड़ी जिम्मेदारी है। गर्भवती, धात्री महिलाओं की देखभाल सही ढंग से होगा तो बच्चे भी स्वस्थ्य पैदा होंगे| तो ग्रामीण क्षेत्रों के बच्चे भी अच्छी तरह से शिक्षा ग्रहण कर उच्च पदों पर पहुच कर देश व समाज की सेवा करेंगे।

वर्तमान सरकार मा. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में अल्प अवधि में अच्छा कार्य कर रही है जिससे प्रदेश की जनता में भारी उत्साह है। प्रदेश में स्वच्छ और पारदर्शी शासन देने के लिए अनेकों महत्वपूर्ण कदम उठाये गये हैं| जिसका सार्थक परिणाम सामने आ रहा है। उन्होंने कहा कि जब कोई पोषाहार वितरण में अनियमता की बात करता है तो बहुत पीड़ा होती है| इस कलंक को आप सभी को दूर करना होगा।

इसकी शुरूआत बहराइच जनपद से होनी चाहिए ताकि मैं दूसरे जनपदों में गर्व से बहराइच का नाम ले सकूं। उन्होंने कहा कि आप सभी मजबूती के साथ खड़ी होकर इस शिकायत को दूर करें। आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों का किसी स्तर पर शोषण न हो इसका पूरा ध्यान रखा जायेगा, परन्तु शिकायत मिलने पर दण्डित भी किया जायेगा।

श्रीमती जायसवाल ने कहा कि महिलाओं को सार्वजनिक जीवन में अनेक प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता है फिर भी वह अपना मान सम्मान बनाये रखते हुए अपने दायित्वों को बखुबी अन्जाम देती हैं। कोई व्यक्ति पद से बड़ा नहीं होता है अपने किरदार से बड़ा होता है। हमारी आंगनबाड़ी बहने मजबूती के साथ खड़ी होकर अपने दायित्वों का निर्वहन करेंगी तो सभी बाधायें स्वतः समाप्त हो जायेंगी।

श्रीमती जायसवाल ने आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों का आहवान करते हुए कहा कि अपने कार्यों की स्वयं समीक्षा करें और जो कमी हो उसमें सुधार लायें। उन्होंने कहा कि मा. मुख्यमंत्री जी ने मुझे जो जिम्मेदारी सौंपी है उसकी शुरूआत मैने अपने जनपद बहराइच से की है, आप सभी मेरे सम्मान का ध्यान रखते हुए पूरी निष्ठा, ईमानदारी व लगन से नियमित रूप से आंगनबाड़ी केन्द्र संचालित करें और मानक के अनुसार पोषाहार का वितरण करें।

समारोह के दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष श्याम करन टेकड़ीवाल ने कहा कि आंगबाड़ी बहने शत’-प्रतिशत केन्द्र का संचालन करते हुए मानक के अनुसार पोषाहार का वितरण कर जनपद को प्रदेश में प्रथम स्थान दिलायें। आपकी जो जायज समस्यायें हैं उनके निराकरण के लिए हर सम्भव प्रयास किया जायेगा।

जिला कार्यक्रम अधिकारी सुनील कुमार श्रीवास्तव ने भी कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकत्री पूरी निष्ठा, लगन व ईमानदारी से अपने कर्तव्यों को करते हुए विभाग के कार्यों में सुधार लायें। बाल विकास परियोजना अधिकारी एसोसियेशन के प्रदेश अध्यक्ष अरूण कुमार पाण्डेय ने आंगनबाड़ी केन्द्रों पर समुचित संशाधन, बच्चों के बैठने की व्यवस्था व ड्रेस, बाल विकास परियोजना अधिकारियों को भारत सरकार के नियमानुसार ग्रेड पे की सुविधा अनुमन्य कराने, संविदा कर्मियों के शीघ्र समायोजन के सम्बन्ध में विस्तार से प्रकाश डाला।

इसके अलावा महिला आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ के राष्ट्रीय महासचिव पाले सैनी, प्रदेश उपाध्यक्ष सुश्री माया सिंह, संरक्षक हरिकेश सिंह व अन्य पदाधिकारियों ने भी समारोह को सम्बोधित किया। समारोह के दौरान प्रतिभा मिश्रा ने सरस्वती बन्दना तथा सुमन श्रीवास्तव ने स्वागत गीत प्रस्तुत किया।

समारोह का संचालन शिक्षक संतोष सिंह ने किया। समारोह के दौरान मुख्य अतिथि मा. मंत्री श्रीमती अनुपमा जायसवाल को साल व प्रतीक चिन्ह तथा भाजपा जिलाध्यक्ष श्याम करन टेकड़ीवाल, पुरूषोत्तम जायसवाल, श्विम जायसवाल को प्रतीक चिन्ह भेट किया गया।

रिपोर्ट-राकेश मौर्य

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here