दवा पिलाने को लेकर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता खफा

0
85
प्रतीकात्मक


गोरखपुर(ब्यूरो)-
छोटे बच्चो की पेट की कीड़ी से बचाव के लिए दवा पिलाने को लेकर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओ में नाराजगी है| कार्यकर्ताओं ने स्वास्थ्य विभाग का नाम बता कर दवा लेने से मना कर दिया है| उनका कहना है कि उन्हें इसके लिए प्रशिक्षित भी नहीं किया गया है|

आंगनबाड़ी केन्द्रों पर आने वाले बच्चो को कीड़े की दवा पिलाने के लिए सभी बाल विकास परियोजना केन्द्रों पर दवाए भेजी गई हैं| ये दवांए १८ मार्च को सभी बच्चो को पिलाई जानी है| कई आंगनबाड़ी केन्द्रों पर जब कार्यकर्ताओं को यह दवा दी जाने लगी तो उन्होने उसे लेने से मना कर दिया| उनका कहना है कि यह कार्य स्वास्थ्य विभाग का है फिर इसके लिए उन पर क्यों दबाव बनाया जा रहा है| कहा कि वह स्वास्थ्य विभाग के वर्करों का हर तरह का सहयोग करेगी, मगर दवांए नहीं पिलायेगी इसे लेकर कई परियोजना अधिकारीयों और आंगनबाड़ी संघ की पदाधिकारियों में नोकझोक भी हुई|

आंगनबाड़ी सहायिका कर्मचारी एसोशियन की प्रदेश अध्यक्ष गीताजंली मौर्या ने कहा कि लखनऊ मे आंगनबाड़ी केन्द्रों पर विटामिन ए की खुराक एएनएम की ओर से पिलाई गई थी| उससे कुछ बच्चो की मौत हो गई| उसका पूरा दोष आंगनबाड़ी वर्करो पर आ गई क्योकि वह उस गांव की रहने वाली थी| इस नाते आंगनबाड़ी कार्यकर्ता इस काम में पूरा सहयोग तो करेगी पर वह दवाएं लेकर नही जायेगी|

रिपोर्ट-जयप्रकाश यादव

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY