ब्राहमण समाज ने उपेक्षा पर जताया आक्रोश

0
141

रायबरेली : अखिल भारतीय ब्राम्हण सभा के समस्त विधान सभा के पदाधिकारी ब्लाक अध्यक्षों तथा ग्राम सभाओं के कार्यकारिणी की बैठक जिला अध्यक्षता में स्थानीय होटल में आयोजित किया गया।

बैठक की अध्यक्षता मुन्नु महराज ने मुख्य एजेण्डा यह रखा कि आज सभी राजनैतिक पार्टिया ब्राम्हण समाज की उपेक्षा कर रही है जबकि जिले में ब्राम्हण समाज की संख्या कुल आबादी का 25 प्रतिषत है और भारतीय जनता पार्टी द्वारा घोषित उम्मीदवारो की सूची में ब्राम्हण समाज को रायबरेली की विधान सभा सीटों पर किसी भी विधान सभा में उम्मीदवार नहीं बनाया गया जिससे पूरे ब्राम्हण समाज का भारतीय जनता पार्टी द्वारा अपमान किया गया जबकि रायबरेली के सरेनी विधान सभा सीट पर ब्राम्हण समाज द्वारा अखिल भारतीय ब्राम्हण सभा को षिकायत दर्ज करवाते हुए शेष प्रकट किया गया और मुन्नु महराज द्वारा अपने सम्बोधन में कहा गया है कि हम भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष नेतृत्व से अनुरोध के साथ कहना चाहते है कि सरेनी विधान सभा क्षेत्र में ब्राम्हण समाज की बाहुल्यता देखते हुए ब्राम्हण समाज के लोगों को उम्मीदवार बनाया जायें अन्यथा ब्राम्हण समाज को मजबूर होकर रायबरेली के समस्त विधान सभा सीटों पर भाजपा के सभी उम्मीदवारों का विरोध करते हुए हरानें का कार्य किया जायेगा। बैठक में मुख्य रूप से विकास शुक्ला, विनोद बाजपेई, राकेष पाण्डेय, दीपक तिवारी, विमल तिवारी, मुन्नु तिवारी, हरीषंकर अवस्थी, आसुतोष बाजपेई, कपिल अवस्थी, गिरजाषंकर शुक्ला, प्रषान्त पाठक, उमानाथ मिश्रा, उमाषंकर पाण्डेय, वेदनाथ चैबे, दिवाकर चतुर्वेदी, लक्ष्मण त्रिवेदी, विनय मिश्रा, तथा भारी संख्या ब्राम्हण समाज के लोग उपस्थिति थे।

रिपोर्ट – राजेश यादव

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here