अन्ना हजारे ने केजरीवाल की जमकर की खिंचाई, बोले अच्छा है कि मेरे साथ नहीं है नहीं तो मुझे भी दाग लग जाता

0
449

दिल्ली- दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का आर.जे.डी. प्रमुख लालूप्रसाद यादव से गले मिलना बहुत भारी पड़ रहा है I आजकल दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को चारों तरफ से आलोचनाओं का शिकार होना पड़ रहा है I शोशल मिडिया पर अरविंद और उनकी पार्टी की कायदे से लोगों धज्जियाँ उड़ाई है I

आज इसी मामले पर पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए अरविंद केजरीवाल के पूर्व राजनैतिक गुरु रहे अन्ना हजारे ने एक बड़ा बयान देते हुए अरविंद केजरीवाल की सोच और उनकी विचारधारा दोनों पर ही प्रश्न चिन्ह लगा दिया है I समाजसेवी अन्ना हजारे ने आज पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा है कि अच्छा ही है कि केजरीवाल मेरे साथ नहीं है, नहीं तो आज मेरे भी दामन पर दाग लग जाता I

ज्ञात हो कि 20 सितम्बर को नितीश कुमार के शपथ ग्रहण समारोह में अरविंद केजरीवाल बतौर अतिथि पहुंचे थे I अरविंद ने मंच पर ही आर.जे.डी. प्रमुख लालूप्रसाद यादव को गले लगाया था साथ ही लालू यादव के साथ ही हाथ उठाकर जनता का अभिवादन भी एक साथ ही स्वीकार किया था I

अरविंद केजरीवाल जो कि हमेशा ही भ्रस्टाचार विरोधी बयानों और अपने बड़े-बड़े वादों के लिए जाने जाते रहे है I उनके इस कदम से दिल्ली में बीजेपी को एक बहुत बड़ा मौका मिल गया I बीजेपी ने दिल्ली में लालूप्रसाद यादव और अरविंद केजरीवाल के हाथ उठाकर अभिवादन स्वीकार करते हुए और गले मिलते हुए पोस्टर पूरी दिल्ली में लगवा दिए और उनपर नारा लिख दिया ….अब अन्ना कल की बात ….अब लालू जी का साथ

इस मामले को तूल पकड़ता देख अरविंद केजरीवाल ने कल आम आदमी पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में इस मामले पर सफाई भी दी और कहा कि लालू प्रसाद यादव ने जबरन मेरा हाथ पकड़कर अपनी तरफ खींच कर गले लगा लिया था और फिर जबरदस्ती ही मेरा हाथ उठाकर जनता का अभिवादन भी जबरदस्ती ही स्वीकार करवाया था I

अरविंद केजरीवाल के इस बयान के बाद आम आदमी पार्टी के प्रमुख नेताओं में से एक संजय सिंह ने बड़े जोर शोर से लालूप्रसाद यादव के ऊपर हमले बोले और बताया कि हमारे रास्ते अलग-अलग है I

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here