देशद्रोह आरोपी उमर खालिद ने फिर देश के खिलाफ उगला जहर, आतंकी बुरहान को बताया क्रांतिकारी और शहीद |

0
376

umar1

देशद्रोह आरोपी जेएनयू छात्र उमर खालिद ने एकबार फिर देश की अखंडता पर आघात करने की कोशिश की है, उमर ने हिजबुल आतंकी बुरहान को एक महान क्रांतिकारी बताते हुए अपने फेसबुक अकाउंट पर पोस्ट किया कि ”चे ग्वेरा ने कहा था कि अगर मैं मारा भी जाऊं तो मुझे तब तक फर्क नहीं पड़ता जब तक कोई और मेरी बंदूक उठाकर गोलियां चलाता रहेगा. शायद यही शब्द बुरहान वानी के भी रहे होंगे. बुरहान मौत से नहीं डरता था, वो ऐसी जिंदगी से डरता था जो बंदिश में जी जाए. उसने इसका विरोध किया. वो आज़ाद जिया और आज़ाद मरा. कश्मीर पर कब्ज़े का खात्मा हो. भारत, तुम उन लोगों को कैसे हराओगे जिन्होंने अपने डर को हरा दिया है. हमेशा ताकतवर रहो बुरहान. कश्मीर के लोगों के साथ पूरी सहानुभूति. #FreeKashmir ”

इसे भी पढ़ें – देशविरोधी नारे लगाने वालों पर फिर गिरेगी गाज, वीडियो का सच आया सामने |

गौरतलब है कि जेएनयू छात्र उमर खालिद ने जिस अर्नेस्तो चे ग्वेरा का जिक्र अपनी पोस्ट में किया है, वह अर्जेंटीना के मार्क्सवादी क्रांतिकारी थे जिन्होंने क्यूबा की क्रांति में मुख्य भूमिका निभाई थी |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here