अन्त्योदय मेला एवं प्रदर्शनी आयेाजित

0
103


मैनपुरी (ब्यूरो) मुख्य विकास अधिकारी विजय कुमार गुप्ता ने विकास खण्ड जागीर में अन्त्योदय मेला एवं प्रदर्शनी के अवसर पर आयेाजित गोष्ठी में उपस्थित जन समूह को सम्बोधित करते हुए कहा कि पं0 दीन दयाल की सोंच समग्र विकास की थी इसी सोंच को आगे बढ़ाते हुए हमें कार्य करना है। उन्होने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा पं0 दीन दयाल की जन्मशती वर्ष के उपलक्ष्य में वर्ष 2017 को “गरीब कल्याण वर्ष” के रूप में मनाये जाने का निर्णय वास्तव में गरीब व्यक्ति का सम्मान है। सरकार बनने के बाद गरीबो के उत्थान के लिए उनके जीवन में अमूल चूल परिर्वतन लाने के लिए हर गरीब के सपनो को साकार करने के लिए प्रदेश सरकार प्रयास कर रही है।

श्री गुप्ता ने कहा कि प्रदेश, केन्द्र सरकार की भी कल्याणपरक, लाभपरक योजनायें गरीब, पिछड़े, किसान को लाभान्वित करने के लिए है, अधिकारी संचालित येाजनाओ का लाभ प्राथमिकता पर पात्रों को पहुंचाने की दिशा में कार्य कर रहे हैं, ताकि गरीबों का समाजिक आर्थिक, शैक्षणिक उत्थान हो और वह भी विकास की मुख्य धारा में शामिल हो सके। उन्होेने गोष्ठी में उपस्थित विशेष तौर पर महिलाओं का आह्वान करते हुए कहा कि वह अपनी बहू की गर्भावस्था के दौरान उचित देखभाल करें उसे पोषक आहार दें, ताकि पैदा होने वाला बच्चा स्वस्थ रहे। नवजात शिशुओ की उचित देखभाल करें, यदि बच्चा एक बार कुपोषण की जद में पाया और 06 साल तक उसे कुपोषण से मुक्ति न मिली तो उसे जिन्दगी भर इस रोग से लड़ना पड़ेगा। इसलिए आप सब सजग रहे यदि कोई बच्चा कुपोषित है तो उसका समीपवर्ती आंगनवाड़ी केन्द्र पर नियमित वजन करायें और उचित आहार दें, यदि फिर भी सुधार न हो तो एनआरसी में भर्ती करायें। उन्होेने कहा कि खुले में शौच करने से गांव में गन्दगी फैलती है घर की बहू-बेटियों को शर्मिन्दा होना पड़ता हैं, साथ ही अदृश्य रूप से हमारे पेट में गन्दगी पहुंचती है ग्रामीण इससे बचें और स्वच्छ भारत के तहत शौचालय बनवाये और उनका प्रयोग करें।

मुख्य विकास अधिकारी ने उपस्थित किसानो से कहा कि सरकार की योजनाओ का लाभ लें और वैज्ञानिक सोंच के साथ खेती करें, जैविक खेती को बढ़ावा दें ताकि मृदा में लाभदायक सूक्ष्म जीवांे की संख्या बढ़े ताकि मृदा का स्वास्थ्य सुधरे। उन्होने कहा कि अंधाधुंध रसायनिक खादों के प्रयोग के कारण मिट्टी की उर्वरा क्षमता घट रही है। उप जिलाधिकारी भोगांव सन्दीप कुमार ने गोष्ठी को सम्बोधित करते हुए कहा कि पं0 दीन दयाल का मानना था कि पहलें व्यक्ति को वेैचारिक रूप से संगठित होना है तभी समाज संगठित हो सकता है। उन्होने कहा कि शोषित वंचित, दबे कुचले लोगो की कोई धर्मजाति नहीं होती है बस संकल्प लेकर बिना किसी भेदभाव के उनके जीवन स्तर को ऊपर उठाना और उनका उत्थान करना है। अन्त्योदय मेला,प्रदर्शनी में सूचना विभाग द्वारा सबका साथ सबका विकास सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं व लाभपरक कार्यक्रम की पुस्तिका,कलेण्डर भी नि‘शुल्क वितरित किये गये। इस अवसर पर खण्ड विकास अधिकारी घिरोर राम प्रसाद,ग्राम प्रधान राजलपुर रामवीर सिंह,ग्राम प्रधान कुसुमाख्ेाड़ा, धीरेन्द्र चैहान,ग्राम प्रधान मंगलपुर रजनी कुमारी,ग्राम कछपुरा मीरा देवी,ग्राम प्रधान मैदेपुर उदयवीर ग्राम प्रधान धर्मेन्द्र सहित विभिन्न येाजनाओ के लाभार्थी व बड़ी तादात में ग्रामीण उपस्थित रहे।खण्ड विकास अधिकारी जागीर हरगोविन्द दयाल ने सभी आगन्तुको का आभार व्यक्त किया।

रिपोर्ट – दीपक शर्मा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here