लंबित विवेचनाओं के निस्तारण के लिए उठाये गए उचित कदम

0
81

जालौन- लंबित विवेचनाओं का अतिशीघ्र निस्तारण करें। अपराधी किस्म के व्यक्तियों पर पैनी निगाह रखें। यदि कोई शांति व्यवस्था को भंग करने की कोशिश करता है, तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करें। यह निर्देश पुलिस क्षेत्राधिकारी ने कुठौंद व सिरसा कलार थाने का अर्दली रूम करते हुए अधीनस्थों को दिए।

बुधवार को सीओ संजय कुमार शर्मा ने कुठौंद व सिरसाकलार थाने का अर्दली रुम किया। इस दौरान उन्होंने दोनों थानों के दस्तावेजों को खंगाला एवं लंबित विवेचनाओं की पड़ताल भी की। जिसमें दोनों थानों में 90 विवेचनाऐं लंबित मिली। जिस पर उन्होंने नाराजगी व्यक्त करते हुए लंबित विवेचनाओं को अतिशीघ्र निस्तारित किए जाने की निर्देश दिए। उन्होंने कड़े लहजे में कहा कि प्रदेश में निजाम बदला है, आम जनता को बदलाव महसूस होना चाहिए। किसी भी पीड़ित को अभियोग पंजीक्रत कराने के लिए अनावश्यक परेशान न करें। समस्या का समाधान किसी के दबाव में आकर नहीं बल्कि गुण, दोष के आधार पर किया जाए। कानून तोड़ने वालों से सख्ती से निपटें। अपराधी किस्म के व्यक्तियों पर पैनी निगाह रखें। नवरात्रि के पर्व को देखते हुए यदि कोई शांति व्यवस्था भंग करने की कोशिश करता हुआ मिले तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करें। इस मौके पर कुठौंद थानाध्यक्ष आनंद कुमार पटले, सिरसाकलार थाना प्रभारी शिवमोहन समेत दोनों थानों के सभी उपनिरीक्षक उपस्थित रहे।

रिपोर्ट – अनुराग श्रीवास्तव

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here