मोबाइल का सिग्नल नहीं मिला तो पेंड़ पर चढ़ गए मोदी के मंत्री, जानें आखिर फिर क्या हुआ

0
85

बीकानेर- पिछले तीन सालों से मोदी सरकार पूरे देश और पूरी दुनिया में डिजिटल इंडिया का धूम मचा रही है और बड़ी ही जोरों शोरों से डिजिटल इंडिया का प्रचार व प्रसार किया जा रहा है लेकिन मोदी सरकार के इस बड़े प्रोजेक्ट को सबसे बड़ा पलीता खुद उन्ही की सरकार में वित्तराज्य मंत्री श्री अर्जुनराम मेघवाल ने दिखा दिया है |

दरअसल आपको बता दें कि वित्तराज्यमंत्री बीकानेर के ढोलिया गाँव के दौरे पर गए हुए थे, जहाँ गाँव के लोगों ने मंत्री जी से शिकायत की उनके गाँव के अस्पताल में नर्स कभी नहीं आती है जिसकी वजह से गाँव के लोगों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है | बस फिर क्या था मंत्री जी से गाँव के लोगों का दर्द देखा नहीं देख गया और उन्होंने तत्काल जिले के CMO को फोन लगा दिया | लेकिन जैसे ही उन्होंने फ़ोन करने के लिए फ़ोन अपनी जेब से बाहर निकाला तो पता चला कि फ़ोन से तो नेटवर्क ही गायब है |

इसके बाद गाँव वालों ने मंत्री जी से कहा कि, ‘सर पेंड पर चढ़ने से नेटवर्क मिल जाता है, यदि आपको फोन करना है तो पेंड पर चढ़ना पड़ेगा | इसके बाद मंत्री जी के लिए एक सीढ़ी का इंतजाम किया गया और मंत्री जी तत्काल सीढ़ी के माध्यम से पेंड पर चढ़ गए और वही से उन्होंने जिले के CMO को फ़ोन पर निर्देश दिए कि तत्काल अस्पताल में नर्स की नियुक्ति की जाय |

अब इस वाकये के बाद डिजिटल इंडिया की छवि जो मोदी सरकार ने बनायी थी उसकी सूरत थोड़ी धूमिल सी पड़ती दिखाई पड़ रही है | ऐसा लग रहा है कि आज भी कृतिम टावर की बजाये लोगों को फोन जैसी अत्याधुनिक सुविधाओं का प्रयोग करने के लिए प्राकृतिक टावरों (पेंड) का प्रयोग करने करना पड रहा है |

कौन है अर्जुन राम मेघवाल –
आपको बता दें कि अर्जुन राम मेघवाल वाही सख्सियत है जो दुनिया को पर्यावरण के लिए जागरूक करने के लिए संसद भवन साइकिल चला कर जाते है | मेघवाल की गिनती देश के बड़े और तेज तर्रार दलित नेताओं में की जाती है | पर्यावरण के मसलों पर अर्जुन राम मेघवाल खुलकर अपने विचार रखते है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here