हिज्बुल मुजाहिद्दीन के कमांडर को मार कर सेना ने पूरा किया उरी का बदला

0
75

श्रीनगर : अभी बीते १८ सितम्बर को ही सेना द्वारा चलाये गए ऑपरेशन में चार आतंकियों को मार गिराया था लेकिन फिर भी अपनी आदत से मज़बूर इन आतंकियों ने एक बार फिर से जब एक नयी घटना को अंजाम देने की प्लानिंग की तो हिन्दुस्तानी सेना ने भी अपना कमाल दिखाया और एक बार फिर दो अलग अलग घटनाओं में सेना ने कुल आठ आतंकी मारे|

हिज्बुल मुजाहिद्दीन के कमांडर बुरहान वानी के बाद आतंकी सबजार को उसकी पलटन का कमांडर बनाया गया | पुलवामा जिले के त्राल सेक्‍टर में एक मकान में छुपे सबजार की जानकारी जब सेना को मिली तो सेना ने बिना किसी देरी के वहां धावा बोल दिया और सबजार के साथ एक और आतंकी को मार गिराया | इसके अलावा शनिवार तड़के ही बारामूला जिले के रामपुर सेक्‍टर में एलओसी के जरिये घुसपैठ करने की कोशिश कर रहे छह आतंकियों को भी मार गिराया| इस तरह से मुठभेड़ की इन दो घटनाओ में कुल आठ आतंकी मारे गए |

आपको बता दें कि जिस इलाके में सेना ने इस ऑपरेशन को अंजाम दिया है उसी इलाके से आये आतंकियों ने उरी में सेना के कैंप पर हमला किया था, जिस घटना में कुल अठारह सैनिक शहादत को प्राप्त हुए थे | हालाँकि इसके बाद भारतीय सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक कर ईंट का जवाब पत्थर से दिया था लेकिन आज एक बार फिर से ये ऑपरेशन कर सेना अपना बदला पूरा कर लिया है |

शुक्रवार को सेना ने कश्मीर के उरी में ही नियंत्रण रेखा पर पाकिस्‍तान की बॉर्डर एक्शन टीम यानी बैट (BAT) के दो हमलावर आतंकियों को मार गिराया था जो कि भारतीय सीमा में घुस आये थे| सेना ने इन आतंकियों पर जब गोलीबारी शुरू की तो ये पाकिस्तान की और भागने लगे लेकिन सीमा के २०० मीटर करीब ही इन आतंकियों को मार गिराया गया |

इन घटनाओं में मारे गए हमलावरों के शव के साथ उनके हथियार भी बरामद हुए हैं| खबर थी कि इन दोनों आतंकियों के साथ अन्य आतंकी भी सम्मिलित थे लेकिन मुठभेड़ से पहले ही वो सब पाकिस्तान की और भाग गए |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY