अज्ञात बदमाशों ने दौड़ लगाने गये फौजी की गोली मारकर की हत्या

0
70

बेवर (मैनपुरी ब्यूरो) : थाना बेवर क्षेत्र में रविवार की अलख सुबह गांव के बाहर सड़क किनारे एक फौजी का खून से लथपथ शव पड़ा मिलने से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। अज्ञात बदमाशों ने दौड़ लगाने गये फौजी की गोली मारकर हत्या कर दी और शव को लावारिस हालत में छोड़कर फरार हो गये। घटना की जानकारी होते ही परिवार के लोगों में कोहराम मच गया। सूचना मिलते ही एसपी. एएसपी. सीओ भोगांव पुलिस बल के साथ मौके पर पहुच गये। पुलिस ने शव को कब्जे मंे लेकर पोस्टमार्टम करवाया है।

बताते चले कि थाना बेवर क्षेत्र के ग्राम नगला पदम निवासी सत्यराम पाल का 22 वर्षीय पुत्र अतुल कुमार बड़ा ही होनहार था। तीन भाइयों में दूसरे नम्बर के अतुल कुमार ने स्नातक तक की पढ़ाई की थी। अतुल जनपद मथुरा में हुई आर्मी की भर्ती में भर्ती हो गया था। अतुल कुमार को आने वाली 3 मई को सैना में ट्रेनिंग के लिये जाना था। इसी के चलते वह आये दिन रात के अंधेरे में जब गांव के लोग गहरी नींद सोते थे त बवह अपनी दौंड का अभ्यास करता था। रविवार की सुबह अतुल का खून से लथपथ शव गांव से बाहर सड़क किनारे पड़ा था। अज्ञात बदमाशों ने सीने में गोली मारकर उसकी हत्या कर दी थी। हत्यारे रक्त रंजित शव को लावारिस हालत में छोड़कर फरार हो गये थे। सुबह गांव के लोग जब शौचक्रिया के लिये निकले तो उन्हें फौजी का शव पड़ा मिला। जानकारी होते ही परिजन और ग्रामीण इक्ट्ठे हो गये। होनहार बेटे का शव देखकर परिवार के लोगों में कोहराम मच गया। घटना की सूचना मिलते ही एसपी सुनील कुमार सक्सेना, एएसपी शिष्यपाल सिंह, सीओ भोगांव बेवर पुलिस के साथ घटना स्थल पर पहुच गये। पुलिस ने ग्रामीणों से जानकारी जुटाने के बाद शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करवाया है। पुलिस ने पिता की तहरीर पर अज्ञात लोगों के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया है। घटना की जानकारी होते ही किशनी के सपा विधायक व्रजेश कठेरिया पोस्टमार्टम हाउस पहुचे। उन्होंने पीड़ित परिवार को ढाढस बधाया।

आखिर आधी रात किसका आया फोन
बेवर/मैनपुरी। रविवार की आंधी रात को फौजी अतुल कुमार जब गहरी नींद अपने कमरे में सो रहा था तो 1 बजे के समय उसके मोवाइल पर आखिर फोन किसने किया। जब फोन आने के बाद फौजी घर से बाहर नहीं निकला तो फिर दो बजे और फिर तीन बजे उसके मोवाइल पर फोन आया लेकिन वह तब भी घर से बाहर नही निकला। अक्सर दौंड़ लगाने के लिये वह घर से चार बजे की निकलता था। आखिर किसने उसे फोन किया था और वह क्यों बुलाना चाहता था। यह तो पुलिस की जांच के बाद ही पता चल सकेगा।

फौजी की हत्या कहीं योजना तो नहीं
नगला पदम निवासी फौजी अतुल कुमार की हत्या कहीं योजना बद्ध तरीके से तो नहीं की गई। पोस्टमार्टम हाउस पर मौजूद कुछ ग्रामीणों ने दवी जुवान बताया कि फौजी की हत्या प्रेम प्रसंग के चलते तो नहीं हुई है। गांव में तरह-तरह की चर्चाआंे का बाजार गर्म है। आखिर फौजी की हत्या के पीछे का कारण जानने के लिये पुलिस ने मुखविरों का जाल बिछा दिया है। थानाध्यक्ष बेवर का कहना है कि हत्यारे कोई भी हो कानून के शिकंजे से बहुत दिनों तक बच नहीं सकते है।

अपराध की आई बाढ़- सपा विधायक
किशनी से सपा विधायक ब्रजेश कठेरिया का कहना है कि जब से प्रदेश में भाजपा सरकार आई है अपराध की तो बाढ़ सी आ गई है। बीते एक सप्ताह के अंदर पांच बेगुनाह लोगों की हत्याये कर दी गई। बलात्कार और छेड़छाड की घटनाये ंतो अब आम बात हो गई है। ऐसा लगता है कि अपराधियों पर कानून का कोई शिकंजा नहीं है। वे जब चाहते है, जहां चाहते है बारदात को अंजाम दे रहे है।

रिपोर्ट – दीपक शर्मा

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY