NGT की रिपोर्ट में हुआ खुला, आर्ट ऑफ़ लिविंग के कार्यक्रम से यमुना को बड़े स्तर पर हुआ पर्यावरणीय नुकसान

0
201
NGT
Image Courtesy – YTIMG

श्री – श्री रविशंकर कि संस्था आर्ट ऑफ़ लिविंग द्वारा यमुना के किनारे किये गए विश्व सांस्कृतिक कार्यक्रम के कारण प्रक्रति को हुए नुकसान की जाँच के लिए नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने एक कमेटी का गठन किया था जिसने अपनी जांच रिपोर्ट सौंप दी है, इस रिपोर्ट में सामने आये आंकड़े बहुत ही चौकाने वाले हैं, रिपोर्ट के अनुसार इस कार्यक्रम के यमुना तट पर होने की वजा से हुए प्राकृतिक नुकसान की भरपाई नहीं की जा सकती है |

आपको बता दें कि श्री श्री रविशंकर कि संस्था द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में देश-विदेश की कई बड़ी हस्तियों समेत भारत के पीएम नरेंद्र मोदी और दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने भी शिरकत की थी |

47 पन्नों की इस रिपोर्ट चर्चा का विषय बनी हुई है, कि कैसे सरकार ने कार्यकर्म के द्वारा होने वाले इस बड़े प्राकृतिक दोहन को नज़र अंदाज़ कर दिया |

रिपोर्ट में पाया गया कि समारोह के मुख्य स्थल के लिए प्रयोग हुआ DND फ्लाईओवर से बारापुला तक का पूरा क्षेत्र पूरी तरह से नष्ट हो गया है |

मुख्य समारोह स्थल पर पर हुई सफाई के चलते वहन पर मौजूद सभी प्रकार कि वनस्पतियाँ नष्ट हो गयी, जिसके कारण उनपर आश्रित बहुत सारे जीव जंतु नष्ट हो गए नदी के किनारे बने छोटे जलाश्यों को मलबे से ढक दिया गया |

जिस क्षेत्र में कार्यक्रम के लिए भव्य स्टेज का निर्माण हुआ वहाँ पर स्टेज बनाने से पहले उस क्षेत्र को बराबर करने के लिए बड़ी मात्रा में कचरे और अन्य प्रकार के हानिकारक मलबे का प्रयोग किया गया, साथ ही DND पुल और बलापुला से मुख्य समारोह स्थल तक का रास्ता बनाने के लिए इसी प्रकार की चीज़ों का बड़ी मात्रा में प्रयोग हुआ |

वनस्पतियों के नष्ट होने, रास्ता और पीपे के पुलों के बनाने के कारण नदी के बहाव के रास्ते ने भी परिवर्तन हुए हैं, जोकि बड़े स्तर पर प्रकृति से छेड़छाड़ और उसके नुकसान को उजागर करते हैं |

इसके अलावां रिपोर्ट श्री श्री रविशंकर की संस्था द्वारा हुए कई अन्य नुकसानों को उजागर करती है जोकि पर्यवारण के लिए बड़ी समस्या का कारण बन सकते हैं, रिपोर्ट आने के बाद आर्ट ऑफ़ लिविंग कमेटी के पुनर्गठन की मांग कर रही है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here