एटीएम लूट के आरोपी की फोटो जारी

0
55

देहरादून (ब्यूरो) –  सहारनपुर चौक स्थित आइडीबीआइ बैंक के एटीएम में लूट का प्रयास करने वाले आरोपी की पुलिस ने बुधवार को फोटो जारी कर दी है। एसएसपी ने दावा किया है कि पुलिस बदमाश की पहचान के करीब है, जल्द ही उसकी गिरफ्तारी भी हो जाएगी। मगर, अभी पुलिस सीसीटीवी फुटेज में दिख रही स्कूटी के नंबर के बारे में कोई जानकारी नहीं जुटा पाई है।

बता दें कि शनिवार की रात 10.42 बजे एक बदमाश सहारनपुर चौक स्थित आइडीबीआइ बैंक के एटीएम में दाखिल हुआ था। उस वक्त एटीएम में गार्ड राजेंद्र कुमार निवासी श्रीदेव सुमन नगर बल्लूपुर वसंत विहार वहां ड्यूटी पर मौजूद था। बदमाश ने एटीएम में घुसते ही गार्ड के सिर पर हथौड़े से ताबड़तोड़ वार कर दिए, जिससे वह लहूलुहान होकर फर्श पर गिर पड़ा।

इसके बाद बदमाश ने एटीएम तोड़कर उससे कैश निकालने का प्रयास किया। इस दौरान वह मशीन के ऊपरी लॉक को तोड़ने में कामयाब भी हो गया, लेकिन भीतर के लॉक को वह नहीं तोड़ पाया। इस दौरान उसने एटीएम कक्ष में लगे एक कैमरे को भी तोड़ दिया था, फिर भी दूसरे कैमरे में उसकी फुटेज कैद हो गई थी।

एटीएम टूटता न देख बदमाश बाहर आकर शटर गिराकर फरार हो गया था। अब तक पुलिस का सिर्फ यही दावा है कि मामले में सीसीटीवी फुटेज के आधार पर बदमाश की शिनाख्त के प्रयास किए जा रहे हैं। वारदात के समय बाहर खड़ी स्कूटी को लेकर भी पुलिस अभी तक किसी नतीजे पर नहीं पहुंच सकी है। इधर, बुधवार को संदिग्ध बदमाश की फोटो पुलिस ने जारी कर दी है। एसएसपी निवेदिता कुकरेती ने बताया कि मामले में अहम लीड मिली है, जिसके आधार पर टीमें लगातार इनपुट जुटा रही हैं।

विधायक से मिले गार्ड के परिजन – आइडीबीआइ बैंक के एटीएम के घायल गार्ड राजेंद्र कुमार के परिजन बुधवार को कैंट विधायक हरबंस कपूर से मिले। गार्ड की पत्नी ऊषा देवी व बेटा सुधीर ने विधायक से बदमाश को तत्काल पकड़ने और आर्थिक मदद की गुहार लगाई।

विधायक ने एसएसपी से फोन पर बात कर आरोपी की गिरफ्तारी के संबंध में जानकारी ली और गार्ड के परिजनों को आश्वस्त किया कि उनकी हरसंभव मदद की जाएगी।

आपको बता दे कि देहरादून की पुलिस के लिए एक बड़ी चुनौती आखिरकार पटेल नगर कोतवाली व शहर कोतवाली सौ कदम दूरी पर गार्ड को हथौड़े से लहूलुहान कर देना यह पुलिस के लिए बहुत बड़ी चुनौती है| जबकि अभी हाल में ही घंटा घर पर एक व्यक्ति को इनोवा कार में मार कर उसको घंटाघर पर फेंका गया था|

जबकि उसकी गाज धारा चौकी इंचार्ज विकास रावत व दो कॉस्टेबल पर गिरी थी और अब शहर कोतवाली व पटेल नगर की कुछ ही दूरी पर होते हुए भी अभी तक किसी पर कोई कार्यवाही नहीं जनता के बीच में बहुत बड़ा एक चर्चा का विषय बना हुआ|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here