निष्प्रयोज्य सामग्री की नीलामी, कड़ी शर्तों के होने से बाहरी खरीददार नहीं ले सके भाग

0
36

जालौन (ब्यूरो)- नगर पालिका परिषद में निष्प्रयोज्य सामग्री की नीलामी की कड़ी शर्तों के चलते बाहर से आए खरीददार नीलामी में भाग नहीं ले सके। जिसके चलते निष्प्रयोज्य सामग्री की नीलामी एक बार फिर से टली।

नगर पालिका में काफी समय से काफी मात्रा में निष्प्रयोज्य सामग्री पड़ी है। जिसकी नीलामी 20 जून को की जानी थी। इसके लिए बकायदा निविदाऐं भी आमंत्रित की गई थीं। नीलामी में भाग लेने के लिए कानपुर, हमीरपुर, बांदा, उरई, औरैया, पुखरांया, राठ आदि सहित कई स्थानों से लगभग 30 व्यापारी आज होने वाली नीलामी में भाग लेने के लिए आए थे। नीलामी से पूर्व अधिशाषी अधिकारी महेशचंद्र उपाध्याय ने नीलामी की शर्तों में बताया कि जिन व्यापारियों की सालाना टर्नओवर दो करोड़ रुपये से अधिक हो वही व्यापारी नीलामी में भाग ले सकेंगे।

इस शर्त की वजह से व्यापारी नीलामी से पीछे हट गए। व्यापारियों में मोह इकलाख कानपुर देहात, नसीम औरैया, महबूब बांदा, सुशील कुमार, शाहिद खां, राजेश कुमार कानपुर, हसन अली बांदा आदि ने बताया कि समाचार पत्रों में प्रकाशित निविदाओं में ने 2 करोड़ रुपये के सालाना टर्न ओवर की शर्त नहीं रखी गई थी। जिसके चलते वह नीलामी में भाग लेने के लिए आए थे। यह शर्त उन्हें नीलामी के समय बताई गई जिसके चलते वह नीलामी में भाग नहीं ले रहे हैं। यदि ऐसी कोई शर्त थी तो उसे समाचार पत्र में प्रकाशित निविदाओं में बताया जाना था।

कम से कम उन्हें इतनी भागदौड़ तो नहीं करनी पड़ती। व्यापारियों ने कहा कि जिन शर्ताें पर अन्य नगर निगम, नगर पालिका एवं नगर पंचायतों पर निष्प्रयोज्य सामग्री की नीलामी की जाती है, उन्हीं शर्तों पर पर वह उक्त नीलामी में भाग लेंगे। व्यापारियों की इस मांग को न सुने जाने के चलते नगर पालिका में पड़ी निष्प्रयोज्य सामग्री की नीलामी एक बार फिर से टल गई।

रिपोर्ट- अनुराग श्रीवास्तव

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY