अवसाद ग्रस्त ब्यक्ति ने ट्रेन के नीचे कूदकर दी जान

0
64

रायबरेली (ब्यूरो)- थाना क्षेत्र खीरों के गाँव हरीरामखेड़ा मजरे मेड़ौली निवासी एक अवसाद ग्रस्त व्यक्ति ने बीती रात ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली। घटना की सूचना पर लालगंज पुलिस घटना स्थल पर पहुँचकर खीरों पुलिस ने शव की शिनाख्त के उद्देश्य से तलाशी ली तो मृतक की जेब से मिली डायरी में मिले मोबाइल नम्बर से परिजनों को सूचना दी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर थाने पहुंचाया। जहां से शव को पोस्ट मार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया गया ।

हरीरामखेड़ा मजरे मेड़ौली निवासी रामचन्द्र (34 वर्ष ) पुत्र विसराम गोरखपुर में भटठे में मजदूरी करता था । परिजनों से मिली जानकारी के अनुसार मृतक रामचन्द्र को थाना क्षेत्र गुरुबक्सगंज के गाँव लालपुर मजरे भीतरगाँव निवासी कल्लू मिस्त्री गोरखपुर भटठे में काम करने के किए ले गए थे। पिछले वर्ष और इस वर्ष का कुल मिलाकर 30 हजार रुपये रामचन्द्र का भटठे में बाकी था । जो कल्लू के द्वारा हड़प करावा दिया गया था ।

इसी कारण वह पंद्रह दिन पूर्व वापस घर आ गया था और तभी से वह अवसाद से ग्रसित हो गया था । विक्षिप्त रूप में वह इधर-उधर घूमता रहता था। सोमवार की दोपहर बाद लगभग 4 बजे रामचन्द्र घर से निकला था । रात में ट्रेन से कटकर आत्महत्या की सूचना घर पहुंचाने से परिजनों में कोहराम मच गया । थानाध्यक्ष खीरों रवीन्द्र कुमार मिश्रा ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया गया है । तहरीर मिलने पर कार्यवाही की जाएगी ।

कैसे पलेगा परिवार-
ट्रेन से कटकर रामचन्द्र की मौत के बाद परिवार के सामने पालन-पोषण का संकट खड़ा हो गया है । मृतक रामचन्द्र की बड़ी बेटी पूजा दुर्गा बाल विद्या मंदिर विद्यालय खीरों में कक्षा-11 की छात्रा है । जबकि उसकी दो छोटी बेटियाँ रीतू और प्रीती सरस्वती इंटर कालेज खीरों में कक्षा 10 की छात्रा हैं । बेटा ललित भी कक्षा-4 का छात्र है । कैसे होगी इन इन बच्चों की पढ़ाई । कौन उठाएगा इनके भरण-पोषण का जिम्मा । यह सवाल सभी के सामने यक्ष प्रश्न की तरह दस्तक दे रहा है । क्योंकि बच्चों के सिर से पिता का साया और पत्नी कुसुमा की मांग का सिंदूर छिन गया है।

रिपोर्ट- राजेश यादव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here