जनता द्वारा शिकायती प्रार्थना पत्र के निस्तारण में वाराणसी जनपद ने लगायी संतोषजनक छलाँग

0
56


वाराणसी (ब्यूरो) पूरे प्रदेश में अपराध के लगातार बढ़ते प्रतिशत की खबरों के बीच वाराणसी पुलिस के लिए पिछला महीना मई एक संतोषजनक आकड़ो के साथ कुछ सुकून वाला रहा है।एक महीने में पूरे प्रदेश के विभिन्न जिलों में जितनी शिकायते दर्ज़ हुई हुई है।उनके निस्तारण के क्रम में वाराणसी को प्रदेश में 23वा स्थान प्राप्त हुआ है।इसके पूर्व वाराणसी जनपद का स्थान 72वा था। ज़ोन के हिसाब से चंदौली को 5 , गाजीपुर 20 और मऊ 20 वे स्थान पर यानि ये जिले शिकायतों के निस्तारण में वाराणसी से अव्वल रहे हैं ।

प्रदेश में शिकायतों के निस्तारण में संत कबीर नगर को पहला और शाहजहापुर को दूसरा स्थान प्राप्त हुआ है।इसी क्रम में वाराणसी ज़ोन और रेंज के जिलों को क्रमशः चंदौली 5, गाजीपुर 20, मऊ 20, वाराणसी 23, आजमगढ़ 24, मिर्जापुर 38, सोनभद्र 38, भदोही 48, बलिया 70, जौनपुर 72 वे क्रम पर है जनता के शिकायतों के निस्तारण में।

वाराणसी जनपद में 1 मई 2016 से 1 मई 2017 के बीच कुल 20183 शिकायतें दर्ज़ की गयी।जिनमे 19541 मामलों को सुलझा लिया गया।शेष 642 शिकायतों का निस्तारण एक साल बाद भी नहीं हो पाया है।एस एस पी वाराणसी नितिन तिवारी ने बताया कि सिर्फ उनके दफ़्तर से प्रतिदिन 120 से 135 के बीच लगभग जनता के शिकायती एप्लिकेशन सॉल्व किये जा रहे है।शीघ्र ही निस्तारण के प्रतिशत को बढ़ाकर वाराणसी के ग्राफ़ को और ऊपर ले जाने की ईमानदारी के साथ पूरी कोशिश की जायेगी। उन्होंने कहा कि जनता की शिकायतें पत्रों पर द्वारिका जारी करते हुए पीड़ित व्यक्ति को हर संभव मदद प्रदान की जाएगी

रिपोर्टर – रवींद्रनाथ सिंह

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY