अविश्वास प्रस्ताव का दांव हुआ फेल, गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज

0
75

अमेठी (ब्यूरो) ब्लॉक प्रमुख भादर अखिलेश यादव उर्फ विनय के खिलाफ पेश अविश्वास प्रस्ताव को क्षेत्र पंचायत व जिला पंचायत अधिनियम के मानक पर खरा न उतरने के चलते जिलाधिकारी ने निरस्त कर दिया, अविश्वास प्रस्ताव लाने के पक्ष में जुटे विपक्षियों के सारे पाशे फेल हो गए, प्रमुख पद की कुर्सी पाने की जंग में प्रमुख अखिलेश यादव की जीत हुई |

अविश्वास लाने के पक्ष में बताए गए कुल 43 सदस्यो में मात्र 27 बीडीसी सदस्यों के ही हस्ताक्षर अथवा अंगूठा निशान वैध पाये गये, अधिनियम के मुताबिक कुल बीडीसी सदस्यो में से कम से कम आधे की संख्या में सदस्यो का हस्ताक्षर अथवा अंगूठा निशान प्रमाणन में वैध पाया जाना आवश्यक है, मात्र 4 सदस्यो की कमी से विपक्षियों का दांव फेल हो गया, कुल 62 बीडीसी सदस्यो में से अविश्वास लाने के पक्ष में बताए गए 43 सदस्यो में 16 बीडीसी सदस्यो के हस्ताक्षर व अंगूठे के निशान फर्जी या तो प्रलोभन देकर कराने के साक्ष्य मिले, कूटरचित अभिलेख दाखिल करने वाले विपक्ष का नेतृत्व कर रहे कृष्ण कुमार जायसवाल व प्रवीण कुमार के खिलाफ जिलाधिकारी ने सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही का आदेश दिया है, प्रमुख अखिलेश की इस जीत पर समर्थकों में ख़ुशी की लहर है, विपक्षी खेमे में प्रमुख की कुर्सी पाने के बजाय गम्भीर धाराओं में मुकदमा मिलने से मायूसी व्याप्त है ।

रिपोर्ट – दीपक मिश्रा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here