एससी/ एसटी एक्ट में हुए संशोधन के खिलाफ आवाज उठाने पर विधायक को किया सम्मानित

0
123

हल्दी/ बलिया (ब्यूरो) – केंद्र सरकार द्वारा एससी- एसटी कानून लाये जाने के बाद सवर्ण व ओबीसी एक होकर इस कानून का विरोध कर रहे है।जिसको लेकर एससी-एसटी पर पार्टी लाइन से हटकर सवर्ण व ओबीसी का साथ देने वाले बैरिया विधायक सुरेन्द्र सिंह को बिगही गांव निवासी जेटीएम विद्यालय के प्रबंधक व भाजपा के युवा नेता शक्ति प्रकाश तिवारी “नन्हे जी” ने अपने आवास पर मंगलवार को महान संत स्वामी हरिहरानंद जी का फोटो व अंग वस्त्र देकर सम्मानित किया है। सुप्रीम कोर्ट द्वारा एससी- एसटी कानून में संशोधन किया गया तो केन्द्र सरकार ने संसद में कानून पास करके पुनः वहीं कानून लागू कर दिया।जिसके कारण सवर्ण व ओबीसी के लोग नाराज हो गए।इनका बखूबी साथ देने वाले व लोगों की जरदारी के साथ आवाज उठाने वाले बैरिया विधायक सुरेन्द्र सिंह का जोरदार स्वागत समारोह किया गया।

इस सम्मान से गदगद विधायक ने कहा कि मैं क्षेत्र के जनता का विधायक हूँ।जनता के सम्मान के साथ अगर कोई खिलवाड़ करेगा तो ये लड़ाई आगे तक जाएगी।मेरे गुरु व मार्गदर्शक स्वामी हरिहरानंद जी महाराज ने बताया है कि इस्पात बनाने के लिए लोहे को अग्नि में तपना पड़ता है।कोई भी पद पाना आसान है,लेकिन पद की गरिमा को बनाये रखना बहुत ही कठिन है।क्षेत्र की 70 हजार मतदाताओं के सम्मान के लिए हमेशा संघर्षशील रहूँगा।सुप्रीम कोर्ट की कानून को लागू किया जाय ,इसी में देश की भलाई है।80 प्रतिशत जनता को अपमानित करके किसी को सम्मानित करना प्रजातंत्र का धर्म नही हैे।राजा का सबसे बड़ा हितैषी वही है जो सत्य बात कहने से पीछे न हटे।और मैं सत्य बात कहने से कभी पीछे नही हट सकता।इस मौके पर पूर्व प्रधान छितेश्वर तिवारी,पूर्व ब्लाक प्रमुख बेलहरी विनोद उपाध्याय,सुशील पाठक,हरिओम तिवारी,विजय शंकर उपाध्याय,काशीनाथ तिवारी,योगेंद्र उपाध्याय,रामकुमार सिंह,रविशंकर जी,आलोक कुँवर,गुड्डू पांडेय ,संतोष तिवारी सहित सैकड़ो लोग उपस्थित थे।

 

पानी टंकी के निर्माण का किया वादा

हल्दी –सम्मान समारोह के दौरान ग्रामीणो द्वारा बताया गया कि यहाँ का पानी में आर्सेनिक व आयरन की मात्रा काफी अधिक हो जाने के कारण पानी दूषित हो गया है।इस पर विधायक ने आश्वस्त किया कि जैसे कि इसके लिए पैसा आएगा। मैं एक पानी टंकी का प्रस्ताव दे दूंगा।ताकि आप लोगो को दूषित पानी न पीना पड़े।

रिपोर्ट अतीश उपाध्याय

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here