बच्ची की मौत पर बवाल, पुलिस पर पथराव में दानापुर थानाध्यक्ष जख्मी

0
147

पटना (ब्यूरो)-  पटना में फुलवारीशरीफ के खगौल में कार चलाना सीख रहे एक युवक ने चार साल की बच्ची को कुचल दिया. कार की टक्कर से बच्ची की मौके पर ही मौत हो गई| वहीं कार ने मृतका के चरेरे भाई और दादी को भी टक्कर मार दी. दोनों घायलों की हालत भी चिंताजनक बनी हुई| उन्हे इलाज के लिए निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है|

इधर घटना से नाराज लोगों ने खगौल-दानापुर मार्ग को घंटो जाम कर बवाल किया. सडक जाम हटाने पहुंची पुलिस पर भी लोगों ने पथराव कर दिया. पुलिस पर पथराव में दानापुर थानेदार घायल हो गये| सडक से हटने को तैयार नहीं होने पर फुलवारी, दानापुर, खगौल थाने की पुलिस वज्र वाहन के साथ भारी संख्या में पहुंची और लोगों को दो किमी. तक दौड़ा-दौड़ा कर पीटा| लाठीचार्ज में दर्जनों लोगों के घायल होने की खबर है. पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. काफी मशक्कत के बाद सड़क पर आवागमन सुचारू कराया गया|

बताया जाता है की सुबह 9 बजे नैनचक खगौल मुहल्ले में फोटोग्राफर पृथ्वी राज की 4 साल की बेटी लाडली घर के बाहर अपने चचेरे भाई के साथ खेल रही थी. वहीँ पास में ही उसकी दादी चिंता देवी भी बैठी बच्चों को सडक पर जाने से मना कर रही थी. इसी मुहल्ले के निवासी शंकर चौधरी का बेटा शिव प्रकाश अपने दोस्त रामचंद के बेटे विनोद के साथ कार चलाना सिख रहा था |

मुहल्ले में लापरवाही से कार चलाने के चक्कर में उसने घर के बाहर खेल रहे बच्चों को कुचलते हुए पास में बैठी दादी को भी रौंद डाला. इसके बाद मुहल्ले में कोहराम मच गया. जब तक लोग कुछ समझ पाते पृथ्वी राज की 4 साल की बेटी लाडली दम तोड़ चुकी थी. बच्ची के चेचेरे भाई समर और उसकी दादी चिंता देवी खून से लथपथ थे. आनन फानन परिजनों और मुहल्ले वालो ने घायलों को अस्पताल भेजवाया और इस बीच मौका पाकर कार चलाना सिख रहा दोनों युवक भागने में सफल हो गए|

इस संबन्ध में खगौल थानेदार संजय कुमार पाण्डेय ने बताया की कार चलाने वाले शंकर चौधरी के बेटे शिव प्रकाश के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है| उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम छापेमारी कर रही है| पुलिस ने कार को जप्त कर थाने ले आई है| इसके अलावा पुलिस ने एक सौ अज्ञात लोगों के खिलाफ सडक जाम करने और पुलिस पर पथराव करने समेत अन्य आरोपों में मामला दर्ज किया गया है।

रिपोर्ट-आशुतोष कुमार सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here