पीड़ित पत्रकार ने अपनी बच्ची को इंसाफ दिलाने के लिए योगी शासन से लगाई गुहार

0
101

हरदोई(ब्यूरो)- पीडित पत्रकार ने दिए गए प्रार्थना पत्र में निवेदन कर बताया कि प्रार्थीनी कविता द्रिवेदी (काल्पनिक नाम) पुत्री संजीव द्विवेदी निवासी पनेसर कोतवाली बिलग्राम जनपद हरदोई की स्थाई निवासनी है| प्रार्थीनी गांव के रामचंद्र रामरानी इंटर कालेज में पढती हैं| उक्त कालेज के प्रबंधक देवेन्द्र द्विवेदी के द्वारा गुरू शिष्य की गरीमा को ताक पर रखकर छेडछाड की व गलत करने का प्रयास किया मना करने पर जान से मारने की धमकी दी| प्रार्थनी ने जिसकी शिकायत घर पर की प्रार्थनी के पिता पत्रकार हैं, थाने में तहरीर देकर कार्यवाही करने के लिए जब पुलिस से कहा तो मौजूदा सपा सरकार के संरक्षण में कार्य कर रही, पुलिस ने पीडिता के पिता को थाने से भगा दिया|

उक्त प्रबंधक की पूर्व सपा सरकार में पत्रकार की कोई कार्यवाही नही हुई तो पत्रकार ने इसकी शिकायत पत्रकार संगठनो से की तो बिलग्राम पुलिस ने मुकदमा तो दर्ज कर लिया लेकिन उसी दिन पुलिस ने मामले में एफआर लगा दी, जिसके बाद पीड़ित पत्रकार ने कोर्ट के शरण लेते हुये पुनः विवेचना का आदेश करवाया जिसके वाद पुलिस ने उक्त प्रवंधक को बचाने में जुटी थी जिसके बाद पत्रकार के संघठन ने हरदोई एसपी ऑफिस में धरना प्रदर्शन किया| जिसके बाद एससपी बीसी दुबे ने 15 दिन के अंदर विवेचना कर कारवाही की बात कही थी, जिसके बाद क्राइम ब्रान्च को विवेचना दे दी गई लेकिन विवेचना अधिकारी पीड़ित पत्रकार से दवाव बना कर मामले को रफा दफा करने का प्रयास किया जा रहा है|

पत्रकार के अनुसार अभी तक कोई कार्यवाही नही की जा रही है वही पत्रकार को उलटे मुकदमे में फसाने की साजिश उक्त प्रवंधक के द्वारा रची जा रही हैं| प्रबंधक के पैसे और पावर की वजह से प्राथिर्नी को प्रताड़ित किया जा रहा है पुरा परिवार दहशत में जी रहा है प्राथिर्नी का भविष्य अंधकार में डूब गया है पढाई छूट गई इज्ज़त चली गई अब कौन परिवार प्रार्थनी का हाथ थामेगा जब इज्ज़त नही रह गई तो मैं स्वयं जी कर क्या करूगी इसलिए पुरे होशो हवास में यह लिखकर दे रही हूं कि मैं (कविता) पुत्री संजीव पुरे परिवार सहित 25/6/17 को मुख्यमंत्री के यहा पेट्रोल डालकर आत्महत्या कर लूंगी जिसका जिम्मेदार प्रबंधक देवेन्द्र जो गुरू शिष्य की गरिमा को कलंकित किया बिलग्राम कोतवाली प्रभारी, सीओ ,एसपी, जिलाधिकारी, बिलग्राम के विधायक, सांसद होगे जिनसे इंसाफ की दुहाई लगाते लगाते थक गई हूँ| हमारे पूरे परिवार के हत्यारे यही है मैं कविता पुत्री संजीव आशा करती हूँ कि मेरे परिवार के मौत के बाद कोई और परिवार को मौत को गले लगाना ना पड़े हो सके तो इंसाफ कर दीजिएगा|

गुरू शिष्य की गरिमा फिर कलंकित ना हो-
अत: श्री मान् जी को अवगत कराना चाहती हूँ कि 25/6/17 तक गुरू शिष्य के धर्म को कलंकित करने वाले के खिलाफ कार्रवाई करे अन्यथा इच्छा मृत्यु दे नही तो पुरे परिवार के साथ 25/6/17 को मुख्यमंत्री आवास के सामने 10 बजे आत्महत्या कर लूंगी जिसके जिम्मेदार उपरोक्त अधिकारी गढ होगें तथा पीडिता ने अधिकारियों व पत्रकार साथियों से इंसाफ दिलाने की मांग की है तथा पीडिता के पिता न्यूज आन मूव समाचार पत्र के पत्रकार है| पीडिता ने एसपी हरदोई डी एम हरदोई डी जी पी महिला आयोग मुख्यमंत्री महानिदेशक हरदोई को पत्र अवगत कराया है कि 28/06/17 को पूरे परिवार सहित आत्महत्या कर लेगी तथा यह सत्य है और इसके जिम्मेदार उपरोक्त अधिकारी होगें|

रिपोर्ट- बाल्मीकि वर्मा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here