बुरा कर्म मनुष्य की प्रतिभा और प्रज्ञा पर डालता आवरण: राजन जी

0
64


हल्दी/ बलिया : मां बघौची देवी राम कथा सेवा समिति गायघाट मुड़ाडीह द्वारा देवीतर बाजार में आयोजित राम कथा में शनिवार के दिन पूज्य राजन जी महाराज ने अपने मुखारविंद से राम कथा के माध्यम से कहा कि भगवान विष्णु के मनुष्य रूप में अवतरित होने से पहले सभी देव समाज ब्रह्मा जी को लेकर देवाधिदेव महादेव के समक्ष कैलाश पर इस उद्देश्य से पहुंचते हैं कि वह भगवान विष्णु के परमधाम छीर सागर में पहुंचकर विष्णु से मनुष्य रूप में अवतरित होने के लिए उनसे प्रार्थना करने के लिए साथ चले। सभी देवताओं की बात सुनकर भगवान शिव कहते हैं कि सभी मनुष्यों के के भीतर भगवान निवास करते हैं।यदि मनुष्य अच्छा कर्म करे तो उसका जीवन आसानी से कट जाता है और बुरा कर्म जीवन की प्रतिभा और प्रज्ञा पर आवरण डाल देता है।उन्होंने कहा कि भगवान प्रेम से मिलते हैं भय से नहीं ।

राम कथा सुनने के लिए दूरदराज के ग्रामीण क्षेत्रों से आए श्रद्धालु भक्तों में राम कथा को सुन बहुत ही आनंदित हुए।उक्त अवसर पर आयोजक रमेश मिश्रा, अनिल सिंह, बबलू सिंह प्रधान प्रतिनिधि, भिखारी गिरी, देव कुमार पांडेय,विनोद तिवारी, सुरेंद्र सिंह बैरिया विधायक, मिथिलेश सिंह, दरोगा सिंह आदि लोग उपस्थित रहे।

रिपोर्ट – अतीश उपाध्याय

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here