भदोही : बदमाशों ने कट्टा सटा मुंशी से लूटे 75 हजार, पुलिस ने बताया फर्जी

0
111
प्रतीकात्मक फोटो

भदोही(ब्यूरो)- उत्तर प्रदेश के भदोही जिले के चौरी थाने के मनापुर गांव में स्थित एक ईंट-भट्ठे पर कार्यरत मुंशी को कट्टा से आतंकित कर बाइक सवार बदमाशों से देर रात 75 हजार रुपए लूट लिए। बाद में भट्ठा संचालक को मिली जानकारी के बाद बदमाशों का पीछा किए किया गया और मालिक की बोलेरों और भाग रहे बदमाशों की बाइक में भिड़ंत हो गई। बदमाश बाइक छोड़ कर भाग निकले। पुलिस ने मौके से बाइक बरामद किया है। हलांकि पुलिस ने मुकदमा लिखने के बाद भी इस पूरे घटना क्रम को मनगढंत और फर्जी बताया है। युवकों को राहगीर बताते हुए उन्हें निर्दोष बताया है।

चैरी के धनापुर गांव निवासी दयाराम तिवारी का कुछ दूर पर मनापुर गांव में ईंट भट्ठा है। रविवार की शाम मुंशी ने मालिक को फोन किया और कहा कि ईंट ब्रिकी से 75 हजार रुपये जमा हुए हैं उस ले जाइए। उसके बाद रात 10ः30 के करीब तीन बाइक सवार बदमाश भट्ठे पर पहुंचे और मुंशी को कट्टा सटाकर 75 हजार रुपए कर लूट चपंत हो लिए। इसकी जानकारी मुंशी ने मोबाइल से मालिक को दी। मालिक तुरंत बोलेरो और बाइकों के साथ बदमाशों का पीछा किया। बदमाश मालिक के घर की तरफ जाने वाले वाले रास्ते से ही गुजर रहे थे। घिर जाने के बाद बदमाशों की बाइक दीवाल से टकरा गई। बाद में सभी बाइक छोड़ भाग निकले। उसी दौरान डायल-100 पर घटना की जानकारी दी गयी गई। मौके से बाइक भी बरामद की गई है। पुलिस ने मुकदमा भी लिख लिया था। लेकिन चैरी पुलिस का दावा है कि जांच में पूरा प्रकरण फर्जी पाया गया। जिन युवकों की बाइक बरामद की गयी है वह राहगीर हैं मुंशी से रास्ता पूछ रहे थे। लेकिन वह नशे में था। इसी बीच युवकों से कुछ कहा सुनी हो गई और उसने पूर्व नियाजित प्लान के अनुसार 75 हजार रुपये लूटने की बात बनायी। पुलिस का दावा है कि पूछताछ के दौरान मुंशी ने कबूल किया है कि संचालक के बेटे के कहने पर उसने ऐसा किया। राहगिर युवकों ने कोई लूट नहीं किया था। पुलिस ने उल्टे सवाल करते हुए कहा कि अगर कोई बदमाश लूट की घटना को अंजाम देगा तो वह मालिक के घर की तरफ क्यों भागेगा। पुलिस ने कहा है कि जांच में यह पूरी घटना फर्जी निकली है।

रिपोर्ट- राजमणि पाण्डेय 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here