बहन के घर से लौट रहे दलित युवक की हाइवे पर निर्मम हत्या, परिजनों मे मचा कोहराम

लालगंज/प्रतापगढ़ (ब्यूरो)- लालगंज कोतवाली क्षेत्र के जगन्नाथपुर गांव के एक दलित युवक की बीती गुरूवार की देर रात रहस्यमय परिस्थितियों में लाठी डंडे से पीटकर निर्मम हत्या कर दी गयी। हत्या को लेकर दूसरे दिन भी कोई कारण प्रकाश में नहीं आ सका है।

बताया जाता है कि कोतवाली के जगन्नाथपुर गांव निवासी लहुरी का पुत्र धर्मराज कोरी 34 गुरूवार की रात कोतवाली क्षेत्र के पूरे शिवा वैश्य गांव में अपनी बहन को बाइक से छोड़ने गया था। इसके बाद दोबारा वह अपने बहनोई को भी साथ लेकर बाइक से शिवावैश्य गांव गया। देर रात वह अपने घर वापस आ रहा था। रामपुर बावली से रायपुर तियांई के बीच जगन्नाथपुर गांव के पास हाईवे पर अज्ञात बदमाशों ने उस पर लाठी डंडे से हमला कर दिया।

बदमाशों ने लाठी से सिर के पीछे व उसके पैर के घुटने पर प्रहार कर उसे मौत की नींद सुला दिया। मृतक की बाइक को भी तोडकर किनारे फेंक दिया गया। वहीं मृतक का मोबाइल फोन स्विच आॅफ कर उसके शव पर रख दिया। देर रात तक जब धर्मराज अपने घर वापस नहीं पहुंचा तो परिजनों ने उसकी बहन के घर फोन किया। वहां से यह जानकारी मिलने पर कि वह घर के लिये बहुत पहले जा चुका है तब परिजनों ने उसकी खोज शुरू की।

हाईवे पर उसे लहूलुहान देख परिजन आनन फानन में स्थानीय सीएचसी इलाज को ले आये। यहां से परिजन उसे जिला अस्पताल भी ले गये किन्तु चिकित्सकों ने धर्मराज को मृत घोषित कर दिया। इसके बाद परिजन युवक का शव लेेकर घर लौट आये। सुबह रानीगंज कैथौला पुलिस चैकी के दरोगा पहुंचे और घटना की सूचना कोतवाली को दी। पुलिस ने मृतक के भाई हरिश्चंद्र की तहरीर पर अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस ने मृतक के शव का पंचनामा कर शुक्रवार की दोपहर पीएम के लिये जिला मुख्यालय भेजवाया। मृतक युवक ईट भटठे पर श्रमिक था।

परिजनों के मुताबिक हत्या जैसी घटना को लेकर उसके परिवार की किसी से रंजिश नहीं थी। मृतक अपने पीछे पत्नी उर्मिला तथा पुत्र सचिन (13), संतोष (11), व विपिन (7) तथा दो छः वर्षीया जुड़वा पुत्रियों प्रियंका व प्रियांशु को निराश्रित छोड़ गया। इस बाबत सीओ रमाकांत यादव का कहना है हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है। कोतवाली पुलिस को शीघ्र घटना का खुलासा कर आरोपियों की धरपकड़ के सख्त आदेश दिये गये है।

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY