दलित महिला से दुष्कर्म और गैरइरादतन हत्या के मामले में जमानत की अर्जी खारिज

0
166

Representative
Representative

सुलतानपुर:दलित विवाहिता से दुष्कर्म व गैर इरादतन हत्या के मामले में आरोपियों की तरफ से संबंधित अदालतों में जमानत अर्जी पेश की गई। जिस पर सुनवाई के पश्चात जिला न्यायाधीश नरेश कुमार बहल व स्पेशल जज एससी-एसटी एक्ट जमाल मसूद अब्बासी ने सभी आरोपियों की जमानत अर्जी खारिज कर दिया।

पहला मामला चांदा थानाक्षेत्र के पूनीभीम पट्टी गांव का है। जहां के रहने वाले आरोपी संजय उपाध्याय उर्फ़ कलेक्टर के खिलाफ दलित विवाहिता ने बीते 25 जून की भोर में हुई घटना का जिक्र करते हुए जबरन दुष्कर्म किये जाने का मुकदमा दर्ज कराया था।अपनी एफआईआर में पीड़िता ने आरोपी को दबंग व चरित्रहीन किस्म का व्यक्ति भी होने का जिक्र किया है। फिलहाल विवाहिता ने चल रहे मुकदमे के विचारण के दौरान अपने बयान में अंधेरा होने के चलते आरोपी को पहचानने से इंकार किया है एवं लोगों के कहने मात्र से उस पर एफआईआर दर्ज करा देने की बात कही है। यही नहीं पीड़िता ने तहरीर को भी बगैर पढ़े ही उस पर हस्ताक्षर कर देने की बात बताई है। इन्हीं सब बातों को आधार बनाते हुए आरोपी संजय उपाध्याय की तरफ से स्पेशल जज एससी-एसटी की अदालत में जमानत अर्जी पेश की गई। जिस पर सुनवाई के दौरान बचाव पक्ष ने अपने तर्कों को पेश करते हुए आरोपी को जमानत पर रिहा करने की मांग की। वहीं अभियोजन पक्ष के शासकीय अधिवक्ता ने जमानत पर विरोध जताया। तत्पश्चात स्पेशल जज ने आरोपी की जमानत अर्जी खारिज कर दी है।

दूसरा मामला दोस्तपुर थानाक्षेत्र के रोहियहवा जलालपुर गांव का है। जहां की रहने वाली जशोदा देवी ने जमींनी विवाद को लेकर हुई मारपीट में स्वयं समेत अन्य को गंभीर चोटे आने एवं घायल संदीप की मौत हो जाने का आरोप लगाया है। इसी मामले में जशोदा की तहरीर पर गैरइरादतन हत्यारोपी सगे भाई जियालाल, मेहीलाल,अच्छेलाल एवं सह आरोपी हौंसिला, सीताराम, दयाल, मुकेश, संजय, सुभाष के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। इसी मामले में सभी आरोपियों की तरफ से जिला एवं सत्र न्यायालय में जमानत अर्जी पेश की गई।जिस पर सुनवाई के दौरान बचाव पक्ष ने जिला एवं सत्र न्यायालय में अपना तर्क प्रस्तुत करते हुए जमानत स्वीकार करने की मांग की। वहीं जिला शासकीय अधिवक्ता शुकदेव यादव ने अपराध को अत्यंत गम्भीर बताते हुए जमानत पर विरोध जताया। तत्पश्चात जिला न्यायाधीश नरेश कुमार बहल ने आरोपियों की जमानत अर्जी खारिज कर दी।

रिपोर्ट – दीपक मिश्र

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here