आरोपियों की जमानत अर्जी हुई खारिज

0
158

court
सुलतानपुर : भाजपा नेता व मसाला व्यवसायी राजेश अग्रहरि समेत 10 आरोपियों पर दाखिल आरोपपत्र व समन आदेश के खिलाफ दी गई अर्जी पर बहस हुई, जिला एवं सत्र न्यायाधीश नरेश कुमार बहल ने आगामी 20 जनवरी के लिए आदेश की तिथि नियत की, न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत ने अग्रिम विवेचना के बाद शासन की अनुमति से राजेश अग्रहरि निवासी रायपुर फुलवारी(क़स्बा अमेठी) समेत 10 के खिलाफ दाखिल आरोप पत्र पर 27 अप्रैल 2015 को संज्ञान लिया था, जिसके पश्चात आरोपियों के खिलाफ समन जारी किया गया था आगजनी समेत अन्य गंभीर धाराओं में आरोप पत्र दाखिल है, पहले विवेचक ने भी इन्ही धाराओं में आरोप पत्र दाखिल किया था, एक अक्टूबर 2011 को अदालत ने आरोप पत्र पर संज्ञान लिया था, विवेचना पर राजेश अग्रहरि ने सवाल उठाये थे, जिसके पश्चात् उच्चाधिकारियों के निर्देश पर विवेचक द्वारा की गई मांग पर अग्रेतर विवेचना का आदेश हुआ था, अग्रेतर विवेचना में भी राजेश अग्रहरि समेत 10 आरोपियों के खिलाफ आरोप साबित पाते हुए विवेचक ने इन सबको सबूत तलब कर दण्डित किये जाने की अदालत से मांग की है, जिसके क्रम में अदालत से राजेश अग्रहरि आदि के खिलाफ समन जारी हुआ था |

आरोप पत्र पर न्यायिक मजिस्ट्रेट के जरिये लिए गए संज्ञान व समन आदेश को चुनौती देते हुए जिला एवं सत्र न्यायालय में उसे निरस्त करने की मांग को लेकर निगरानी याचिका दायर की है, अपनी निगरानी में उन्होंने कैबिनेट मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति के दबाव में चार्जशीट दाखिल होने का जिक्र किया है, फिलहाल पहली बार चार्जशीट दाखिल होते समय अक्टूबर 2011 में गायत्री प्रसाद विधायक अथवा मंत्री नही थे, राजेश मसाला के कस्बे की ही रहने वाली शहनाज बेगम पत्नी अरशद खान ने 29 मार्च 2011 की घटना बताते हुए मुकदमा दर्ज कराया है, राजेश मसाला व उनके समर्थकों पर वादिनी का निर्माण ढहाने व विरोध करने पर असलहों से लैश होकर फायरिंग करने ,मारने पीटने व आगजनी समेत अन्य कई गम्भीर आरोप है, राजेश अग्रहरि उर्फ़ राजेश मसाला भाजपा पार्टी से अमेठी विधान सभा क्षेत्र के दावेदार है, राजेश मसाला के लिए दागी होना दावेदारी पर भारी पड़ सकता है ।

रिपोर्ट-संतोष यादव

<span style=”color: #ff6600;”><strong>हिंदी समाचार-</strong> से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा</span> <span style=”color: #000080;”><strong><a style=”color: #000080;” href=”https://www.facebook.com/akhandbharatnws.ind/”>फेसबुक पेज</a></strong></span> <span style=”color: #ff6600;”>और आप हमें</span> <span style=”color: #000080;”><strong><a style=”color: #000080;” href=”https://twitter.com/akhand_ind”>ट्विटर</a></strong></span> <span style=”color: #ff6600;”>पर भी फॉलो कर सकते हैं |</span>

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY