बैंक कर्मियों की मिलीभगत कर युवक के खाते से ट्रांसफर किये दो लाख चालीस हजार

0
70

हसनगंज/उन्नाव (ब्यूरो)- बैक की मिली भगत के चलते एक व्यक्ति ने  खाता धारक के खाते से दो लाख चालीस हजार रुपये अपने खाते मे ट्रासफर कर लिए है | खाता धारक को जब जानकारी हुई तो धोखाधड़ी करने वाले ने धमकी देकर खाताधारक को भगा दिया, पीड़ित ने थाने में लिखित तहरीर देकर न्याय की गुहार लगाई है|

प्राप्त जानकारी के आधार पर बताया जा रहा है कि हसनगंज कोतवाली क्षेत्र के कस्बे मे आर्यावर्त बैक मे खाता धारक शिव कुमार पुत्र दर्शन निवासी ग्राम अमोईया जगदीश पुर का खाता संख्या 0129***** है |जिसमें से सिद्धार्थ नाम के व्यक्ति ने  शिव कुमार को भैस पालने के लिए बैक से लोन दिला देने का झांसा देकर बहाने से बैंक ले जाकर विड्रॉल मे साईन करा लिया और शिव कुमार को घर जाने को कहा शिव कुमार को अनपढ़ जाने उसे घर भेज दिया |

इधर सिद्धार्थ ने बैंक कर्मियों की मिलीभगत से पैसा अपनी पत्नी के खाते में ट्रांसफर करा लिया, जब शिवकुमार रक्षा बंधन के त्योहार के लिए  3 /8/2017 को आर्यावर्त बैक पहुँचे तो शिव कुमार ने रुपये निकालने के लिए विड्रॉल भरकर जैसे ही काउंटर पर दिया तो  रोकड़िया ने बताया गया कि आप के खाते मे पैसे नही है|

खाता धारक ने कहा कि ये कैसे हो सकता है मेरे खाते मे दो लाख चालीस हजार है तभी बैक के कैशियर ने बताया कि आप के खाते से पैसा सुशीला पत्नी सिद्धार्थ के खाते मे ट्रांस्फर किया गया है | ये सुन कर खाता धारक के होश उड़ गए और वो  सिद्धार्थ के गाँव चककुशेहरी पहुंचा | खाता धारक ने सिदार्थ से कहा कि आप ने मेरे खाते से दो लाख चालीस हजार रुपये अपनी  पत्नी सुशीला के खाते मे टांसफर किये है वो मुझे वापस दो जिस पर सिद्धार्थ ने कहा कि नही देंगे जो करना हो वो कर लो।

खाता धारक ने हसनगंज कोतवाली मे सिद्धार्थ के खिलाफ धोखा धड़ी करके पैसा निकालने के तहरीर दी है उपनिरीक्षक विश्वदेव सिंह ने बताया कि इस प्रकार की अभी कोई तहरीर नही मिली है, अगर मिलती है तो कार्यवाही की जाएगी।

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY