बैंक ऑफ बड़ौदा पर तैनात कर्मचारियों द्वारा बैंक ग्राहकों से बदसलूकी

0
85

सुल्तानपुर(ब्यूरो)– एक तरफ क्षेत्र की जनता जहा नोट बन्दी की विकट समस्या को झेलती रही थी। वही जब नोट बन्दी की समस्या से लोगो को कुछ राहत मिली तो दूसरी तरफ कूरेभार कस्बे मे स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा पर तैनात कर्मचारियों द्वारा बैंक ग्राहकों से बदसलूकी व अभद्रता को उतारू हो गये है। जिसको लेकर क्षेत्रीय उपभोक्ताओं मे बैंक कर्मियो की तानाशाही कार्यशैली से काफी आक्रोश व्याप्त है। इस बैंक पर तैनात कैसियर द्वारा आये दिन बैंक ग्राहकों से अभद्र व्यवहार किया जाता है। जिसके कारण आये दिन बैक मे तीखी नोक-झोक होती रहती है। यही नही जब मामले की शिकायत शाखा प्रबन्धक करते है तो उल्टा बैंक उपभोक्ता को ही गलती बताकर खरी-खोटी सुनाते हुये वापस कर दिया जाता है। जिसके चलते क्षेत्र के बैंक ग्राहकों का बीओबी बैंक से मोह भंग होता जा रहा है। वही बैंक कर्मियो के रसूख के आगे बैंक के उच्चाधिकारी भी नतमस्क धरण कर संवेदनहीन बने हुये है।

मामला कूरेभार मे स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा मे कैसियर व शाखा प्रबन्धक की मनमानी से बैंक मे जमकर अव्यवस्थाओ का बोल बाला है। इस बैंक मे पैसा का लेने देंन करना टेढ़ी खीर के समान है। आये दिन बैंक ग्राहकों के अभद्रता से पेश आना तो मानो कैसियर के पद पर तैनात रंजीत के सुमार मे है। उपभोक्ताओं को बैंक कार्य करवाने के लिये घण्टो लाईन मे खड़े होने के बाद कागजो मे कुछ न कुछ कमी बताकर अभद्रता पूर्वक डाटकर वापस कर दिया जाता है। जिसके कारण बैंक उपभोक्ताओ मे मो कल्लू, सीमा देवी, निरंजन तिवारी, अरवाज खा, सहसि विहारी पाण्डेय, मीना देवी, मो सादिक, सियाराम पाण्डेय, राजेश दूबे, विनोद कुमार, आकाश रंजन, कलावती, राम खेलावन, खुशमता, निरूपम सहित दर्जनों बैंक उपभोक्ताओं मे खासा आक्रोश व्याप्त है।

कैसियर की बदसलूकी को लेकर जब लोग शाखा प्रबन्धक से शिकायत किया जाता है तो उल्टा दोषी बैंक कर्मी का पक्ष लेकर बैंक ग्राहकों को ही फटकार लगाकर शान्त कर दिया जाता है। बीओबी बैक की स्थित दिन प्रति दिन दैनिय होती जा रही है। कभी भी बैक कैसियर रंजीत समय से काम पर उपस्थित नही रहते है।  जबकि बैक मे भोजनावकाश का समय 2 बजे दोपहर से 2:30 बजे तक का ही है। उसके बाद भी बैंक कैसियर रंजीत नदारत रहते है। वही बैंक ग्राहक घण्टो बैंकिग कार्य के लिये चक्कर काटने को विवश होते है। जिसके चलते बैंक कर्मियो की मनमानी बीओबी शाखा कूरेभार की छवी धूमिल कर शाख पर बट्टा लगाने का कार्य कर रहे है। जिसकी सुधि लेने वाला कोई नही है। इस मामले पर जब बैंक के शाखा प्रबन्धक से पूछा गया तो चुप्पी साधते हुये अपना नाम तक बताना मुनासिब नही समझा। वही बैंक कर्मियो की अभद्रता को लेकर आम जन मानस ने चर्चा का विषय बना दिया है।

रिपोर्ट-दीपक मिश्रा

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY