जिलाधिकारी के साथ बैक अधिकारियों की हुई बैठक

0
141

बैंक

गाजीपुर 03 फरवरी, 2017| विधान सभा सामान्य निर्वाचन 2017 के दौरान माँनीटेरिंग टीमो द्वारा की जाने वाली चेंकिग के सम्बन्ध मे जनपद के सभी प्रमुख बैंक अधिकारियों की बैठक जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी संजय कुमार खत्री की अध्यक्षता मे राईफल क्लब सभागार मे सम्पन्न हुई।

बैठक मे बताया गया कि बैक द्वारा वाह्य श्रोत एजेन्सियों/कम्पनियों की नकदी वैन किसी भी परिस्थिती मे उस बैंक के अलावा किसी तृतीय पक्षकार/व्यक्तियों की नकदी नही ले जायी जाएगी।वाह्य श्रोत एजेन्सियों/कम्पनियों (की नकदी वैन) के साथ जाने वाले व्यक्ति की पहचान पत्र रखना आवश्यक है।

निर्वाचन अवधि के दौरान यदि निर्वाचन आयोग का प्राधिकृत अधिकारी (जिला निर्वाचन अधिकारी या कोई अन्य प्राधिकृत अधिकारी) वाह्य श्रोत एजेन्सी/कम्पनी की नकदी वैन को जांच करने के लिए रोकता है तो एजेन्सी/कम्पनी दस्तावेजो और मुद्रा की प्रत्यक्ष जांच के दौरान निर्वाचन आयोग को स्पष्ट करने की स्थिति मे होनी चाहिए कि बैंक
निर्देशों के अनुसार बैंक ए0टी0एम0 को फिर से भरने या बैक की कुछ शाखाओं या मुद्रा तिजोरी मे नकदी ले जाने के उदेश्य से उन्होने बैंक से नकदी प्राप्त की है, कैश का प्रेषण बैंक कैशियर या आफिसर द्वारा होना चाहिए, कैश प्रेषण के दौरान शाखा से अधिकृत पत्र एवं पहचान पत्र अवश्य साथ हो।

कैश प्रेषण हेतु जो वाहन प्रयोग किया जाय वह शाखा के कैशचेस्ट द्वारा प्रमाणित एवं हस्ताक्षरित हेाना चाहिए, बैंक वाहन कें गार्ड एवं ड्राइवर के साथ पहचान पत्र एवं लाइसेंस अनिवार्य रूप से होना चाहिए।

मुख्य शाखा से अन्य शाखा को कैश प्रेषण के दौरान करेन्सी का पूरा डिटेल एवं कैशचेस्ट द्वारा हस्ताक्षरित एवं मुहरयुक्त होनी चाहिए। ए0टी0एम0 कैश भरने वाली एजेन्सी का बैंक से एग्रीमेन्ट एवं अधिकृत पत्र
होनी चाहिए। ए0टी0एम0 कैश भरने वाली एजेन्सी द्वारा जो वाहन प्रयोग किया जा रहा हो उसके द्वारा अधिकृत होना चाहिए।

कैश भरने वाली एजेन्सी द्वारा ए0टी0एम0 मे पैसा भरने एवं रिसिभिंग का आन लाईन रिकार्ड साथ मे रखना
अनिवार्य है। बैक यह सुनिश्चित करेगे कि वाह्य श्रोत एजेन्सियो/कम्पनियों से प्राप्त नकदी ले जाने वाली गाड़ी या किसी भी परिस्थिति मे बैंक की नकदी के अतिरिक्त किसी अन्य पक्ष की नकदी नही ले जायेगी।

निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान 10 लाख से अधिक की धनराशि बैंक मे जमा करवाना जबकि पिछले दो माह
के दौरान इस प्रकार जमा व निकासी न की गयी हो की आयकर विभाग द्वारा जांच करायी जायेगी, निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान राजनैतिक दलों के खाते मे एक लाख से अधिक नकदी की जमा या नकदी की निकासी की जांच करायी जायेगी, विधान सभा सामान्य निर्वाचन 2017 लड़ने वाले उम्मीदवारों का बैंक मे अलग से खाता खोेलने हेतु काउन्टर बनाने का निर्देश दिया गया।

रिपोर्ट-हरिनारायण यादव


हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY