ओबामा ने चीन को दी सख्त चेतावनी कहा, दक्षिण चीन सागर के मामले पर चीन को फैसला किसी भी कीमत पर मानना ही होगा

0
2046

obama

लाओस- अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने दक्षिण चीन सागर के मसले पर चीन की तानाशाही पर शख्त रुख अख्तियार कर लिया है | लाओस में एशियाई नेताओं के सम्मलेन को संबोधित करते हुए यूनाइटेड स्टेटस ऑफ़ अमेरिका के राष्ट्रपति ने कहा है कि अंतर्राष्ट्रीय न्यायाधिकरण का फैसला बाध्यकारी है | प्रेसिडेंट ऑफ़ अमेरिका का बयान ऐसे समय में आया जब बीजिंग ने हाल ही में ओबामा की चेतावनी को दरकिनार करते हुए दक्षिण चीन सागर में अपने जहाज तैनात कर दिए थे |

अमेरिकी राष्ट्रपति ने आज लाओस में एशियाई मुल्क के नेताओं के सम्मलेन को संबोधित करते हुए साफ़ किया है कि जुलाई में अंतर्राष्ट्रीय न्यायाधिकरण ने चीन के विरुद्ध जो फैसला सुनाया था उसे बीजिंग को स्वीकार करना ही पड़ेगा | अब ओबामा के इस बयान के बाद यह तो तय है कि चीन इस मसले पर अपनी कड़ी प्रतिक्रिया ब्यक्त करेगा | क्योंकि चीन ने इस फैसले को उसी समय कागज का मात्र एक पुलिंदा बताया था |

चीन क्षेत्र में तनाव बढाने वाले कोई भी कदम न उठाये – ओबामा
अमेरिकी राष्ट्रपति ने चीन को बेहद सख्त लहजे में समझाते हुए कहा है कि चीन दक्षिण चीन सागर के मसले पर ऐसा कोई भी कदम न उठाये जिससे क्षेत्रीय स्थिरता और शांति को खतरा पहुंचे | उधर चीन ने इस मामले पर अमेरिका के ऊपर आरोप लगाते हुए कहा है कि अमेरिका फैसले का इस्तेमाल कर क्षेत्र विवाद को भड़का रहा है |

ओबामा ने फैसले का हवाला देते हुए कहा कि मैं जानता हूं यह तनाव बढ़ाता है | लेकिन मुझे इस बात पर भी चर्चा की अपेक्षा है कि हम किस तरह से तनाव को कम करने और कूटनीति एवं स्थिरता को बढ़ाने की दिशा में रचनात्मक रूप से एकसाथ आगे बढ़ सकते हैं | ओबामा की टिप्पणियों से पहले ही फिलीपीन और चीन के बीच के इस विवाद की छाया ने लाओस में पूर्वी एवं दक्षिण पूर्वी एशियाई सम्मेलनों को घेर लिया था |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here