जीटी रोड सहरजोरी में शिफ्ट होगा बरवाअड्डा थाना

0
62

बरवाअड्डा(ब्यूरो)- कृषि बाजार परिसर से आजाद होगा बरवाअड्डा थाना कुछ ऐसा ही कहना अतिशयोक्ति नहीं होगा। क्योंकि जल्द ही यदि सब कुछ ठीक रहा तो बरवाअड्डा थाना कृषि बाजार से उठकर जीटी रोड में शिफ्ट हो जाएगा इसके लिए बकायदा राज्य सरकार ने गोविंदपुर अंचल से स्थल चिन्हित कर प्रस्ताव भेजने को कहा था इसी के आलोक में गोविंदपुर अंचलाधिकारी प्रेम कुमार ने अपनी टीम के साथ गोविंदपुर अंचल अंतर्गत सहरजोरी मौजा में अजब डीह मोड के पास जगह का चयन किया है।  सूत्रों की माने तो यह जगह हर लिहाज से सुरक्षित एवं महत्वपूर्ण है क्योंकि ऐसा होने से  जीटी रोड में होने वाली अपराधिक घटनाओं एवं दुर्घटनाओं पर पुलिस त्वरित कार्यवाही करेगी। इस संबंध में जमीन की मापी करनेवाले सर्वे आमीन लखन प्रसाद पांडे ने बताया कि सरकार के प्रस्ताव के अनुसार अंचलाधिकारी के निर्देश पर सहरजोरी मौजा के अजब डीह के पास प्लॉट नंबर 99 खाता नंबर 4 मौजा नंबर 122, 1. 29 डिसमिल सरकारी जगह का चयन कर मापी कर प्रस्ताव अंचलाधिकारी के द्वारा जिले को भेजा जा रहा है उसके बाद सारी प्रक्रिया पूरी होने के बाद प्रस्ताव राज्य सरकार को भेज दी जाएगी। थाना शिफ्टिंग की खबर फैलते ही जहां एक और कृषि बाजार के व्यवसाइयों में चिंता की लकीरें होना लाजिमी है वही आम नागरिक में खुशी देखी जा रही है। सूत्रों की माने तो यह प्रस्ताव कई बार राज्य सरकार द्वारा मांगी गई थी परंतु कतिपय कारणों के कारण अब तक स्थल का चयन नहीं किया जा सका परंतु जैसे ही जिला समाहरणालय जेल, कोर्ट की शिफ्टिंग की खबर चर्चा में आई वैसे ही उपायुक्त द्वारा सहरजोरी, पंडुकी, काशीटांड़ आदि जगहों की सरकारी जगहों को चिन्हित कर अतिक्रमण मुक्त एवं जमाबंदी रद्द कर सरकार के कब्जे में लिए जाने की प्रक्रिया विगत 2 वर्षों से चालू कर दी गई इसी के तहत अन्य सरकारी भवनों की सुरक्षा के लिए यही पर थाना भवन भी होना अति आवश्यक है। इसलिए अंचलाधिकारी द्वारा बरवाअड्डा थाने को यहीं पर शिफ्टिंग करने की अनुशंसा की गई है।

क्या कहते है थानेदार-
बरवाअड्डा के वर्तमान थानेदार दिनेश कुमार ने इस संबंध में बताया कि राज्य सरकार द्वारा प्रस्ताव मांगा गया था उसी के आलोक में गोविंदपुर अंचलाधिकारी ने सहरजोरि मोजा में बरवाअड्डा थाने को शिफ्टिंग करने का प्रस्ताव के तहत उक्त जगह का चयन कर मापी की गई है। जल्द ही बरवाअड्डा थाने की शिफ्टिंग भवन बनने के बाद कर दी जाएगी।
टीओपी से कैसे बना थाना बरवाअड्डा।

90 के दशक में कृषि बाजार समिति का अस्तित्व बरवाअड्डा में आया जहां अनाजो की थोक मंडी एवं किसानों के लिए यंहा पर बाजार उपलब्ध कराया गया 1992 में व्यपारियों की सुरक्षा के लिए जिला प्रशासन द्वारा 5-1 की टीम स्थाई तोर पर सुरक्षा के लिए पदास्थापित किया गया। धीरे-धीरे बरवाअड्डा के जनसंख्या बढ़ते जाने के कारण इसे ओपी का दर्जा दिया गया। जिसके पहले ओपी इंचार्ज श्याम मोहन सिन्हा बने उसके बाद बढ़ती आबादी के हिसाब से बढ़ते भौगोलिक क्षेत्र एवं अपराध को देखते हुए बरवाअड्डा ओपी को अपग्रेड करते हुए थाने का दर्जा राज्य सरकार द्वारा दिया गया। इसके बावजूद यहां पर प्राथमिकी दर्ज नहीं होती थी प्राथमिकी संख्या गोविंदपुर थाने के अधीन ही रहता था। कुछ माह पूर्व ही राज्य सरकार ने कई थानों को अपग्रेड करते हुए पूर्ण तौर पर थाने का दर्जा दिया। जिसमें बरवाअड्डा थाना भी एक है। बढ़ते मैन पावर एवं बढ़ते पुलिस पदाधिकारियों एवं सुरक्षा बलों की संख्या को देखते हुए वर्तमान थाना परिसर छोटा होने लगा जिसके कारण पुलिस कर्मियों को अपने कार्यों को निपटाने में दिक्कतों का सामना करना पड़ा। इन्हीं सब बातों को देखते हुए बरवाअड्डा थाने को नए भवन के साथ सहरजोरी में शिफ्टिंग करने का सरकार ने प्रस्ताव लिया है। अब तक बरवाअड्डा थाना कृषि बाजार समिति द्वारा दिए गए भवन पर ही संचालित है 2001 में थाना परिसर में अवस्थित एक बड़ा बरगद का पेड़ गिर जाने के कारण थाना का सिरिस्ता सहित थाना प्रभारी का घर सहित अन्य भवन बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए थे। तब उसे बनवाने में कृषि बाजार ने  हाथ खड़ा कर दिया था तब तत्कालीन सिंदरी विधायक फूलचंद मंडल ने अपने निधि से वहां पर भवन बनवाकर पुलिसकर्मियों को राहत दी थी।

रिपोर्ट- संतोष भट्ट 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY