गरीबों के नसीब के निवाले पर ग्राम प्रधान व बीडीसी डाल रहे डाका

0
56


उन्नाव ब्यूरो : तहसील के एक ग्राम पंचायत में प्रधान से लेकर बीडीसी व सरकारी कर्मचारी भी गरीब हैं और गरीबी के चलते वो सरकार की गरीबों के लिए चलाई जा रही राशन खाद्य व्यवस्था में भलीभांति पात्र भी बने हुए हैं और हर महीने राशन की उठान भी कर रहे हैं और ये सब खाद्य विभाग के अधिकारीयों के रहमो करम के चलते ही संभव है।

ऐसा ही मामला हसनगंज तहसील के एक ग्राम में सामने आया है, जहाँ गरीबों को मिलने वाला राशन जब गरीबो को न देकर गाँव के प्रधान ही गरीब बन कर उठा रहे हैं, ऐसे मे गरीबो को उनका हक मिलना बहुत दुर्लभ बात है | जनता बड़े उम्मीदों के साथ गाँव के प्रधान को चुनती है कि राशन की लिस्ट में गरीब परिवार के लोगों के नाम भी आएंगे | मगर ऐसा नहीं है ग्राम प्रधान पहले अपना नाम सूची में दर्ज करा कर राशन उठा रहे है, योगी सरकार राशन की काला बाजारी रोकने के लिए गांवों में तहसील के ग्राम विकास अधिकारियों और आँगनबाड़ी कार्यकत्रियों को घर-घर जाकर राशन कार्ड के पात्रों का सर्वे करने को कहा, लेकिन आँगनबाड़ी कार्यकर्ता घर पर ही बैठ कर खानापूर्ति करने में लगे हुए हैं और पात्रों की जगह अपात्रों को राशन कार्ड सूची में जगह मिल रही है जबकि पात्र व्यक्ति वंचित हो रहे हैं |

हसनगंज तहसील क्षेत्र के गाव झलोतर मे प्रधान से लेकर बीडीसी व आँगन बाड़ी कार्यकर्ती से लेकर सरकारी टीचर भी गरीब बन कर हर महीने राशन उठा रहे हैं, सप्लाई ऑफिस से लेकर कई उच्च अधिकारियो की मिली भगत से सरकार को लाखों रुपये का चूना लगाया जा रहा है, ग्राम प्रधान होने के बावजूद भी प्रधान पात्र गृहस्थी के पात्र बन राशन उठा रहे हैं |

ग्राम झलोतर की महिला प्रधान खुर्शीद बानो पति मोहम्द हरीश किदवई जिनका नाम राशन कार्ड सूची में राशन कार्ड नम्बर 215640481722 पर दर्ज है और बीडीसी कमला दीक्षित पति काली प्रसाद का नाम राशन कार्ड नम्बर 215640483915 पर दर्ज है आँगनबाड़ी कार्यकर्ती कृष्ण निगम पति तुसार निगम का नाम राशन कार्ड नम्बर 215640485077पर दर्ज है और तो और अभी प्रधान के भाई की शादी भी नहीं हुई और पत्नी के नाम से राशन सूची में फर्जी नाम दर्ज करा हर महीने राशन लिया जाता है, जिसका नाम आबदा पत्नी अंजार आलम राशन कार्ड नम्बर 215610154211पर फर्जी तरीके से दर्ज करके राशन की उठान की जा रही है सरकारी अध्यापक सुमन दीक्षित पति कामता दीक्षित का नाम कार्ड नम्बर 215640483868 पर दर्ज करा हर महीने गरीबो के नसीब का राशन उठा रहे हैं | जबकि इनको इस राशन की आवस्यकता ही नही है और न ही ये लोग इस के पात्र हैं |

ये सभी सप्लाई इंस्पेक्टरों की मिली भगत से राशन की काला बाजारी कर रहे हैं, प्रशासन जान कर भी अनजान बना हुआ है और योगी जी के सपने को धूमिल करने की पुरजोर कोशिश में लगा कार्यरत है | सप्लाई इंस्पेक्टर भास्कर से जानकारी मांगने पर बताया गया कि सर्वे हो रहा है ओर ऐसे सभी अपात्रों के नाम लिस्ट से हटाए जा रहे हैं |

रिपोर्ट – राहुल राठौर

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY