भाजपा नेता पर बी.डी.ओ. व प्रधान संघ द्वारा दी गई तहरीर पर पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

0
133


रायबरेली (ब्यूरो)- यूपी में प्रचण्ड बहुमत की सरकार बनने के बाद भाजपा कार्यकर्ता न केवल बेलगाम हैं बल्कि अनुासनहीन भी हो गए हैं। अपने अमर्यादित आचारण और बदजबानी के लिए समूचे ब्लाक में चर्चित भाजपा के खीरों मण्डल प्रभारी ने बीडीओ खीरों को उनके कक्ष में घुसकर न केवल बेइज्जत किया बल्कि जान से मारने की धमकी देते हुए गन्दी-गन्दी गालियां भी दी। भाजपा नेता ने मौके पर मौजूद प्रधानों को भी दलाल आदि कहकर बेइज्जत किया। भाजपा नेता के इस आचरण से आहत प्रधानों ने सामूहिक बैठक कर एक निन्दा प्रस्ताव पारित किया और थानों में प्रधानों को सामूहिक रूप से बेइज्जत करने के विरूद्व तहरी देकर मुकदमा दर्ज करने की मांग की। प्रधानों की तहरीर पर पुलिस ने एनसीआर दर्ज कर ली है। जानकारी के अनुसार खीरों थाना क्षेत्र के बैसन खेड़ा मजरे पाहो निवासी राजे सिंह उर्फ फत्ते सिंह खीरों के भाजपा मण्डल प्रभारी हैं। जब से भाजपा की सरकार बनी है तब से यह कुछ चिन्हित भाजपाईयों के साथ विभागों में दबाव बनाकर काम कराने का प्रयास कर रहे हैं।

थाने के हर मामले में फत्ते सिंह आगे आकर एकपक्षीय न्याय करवाते हैं। इनके एक रितेदार दिने सिंह खीरों में ग्राम पंचायत अधिकारी के पद पर कार्यरत हैं। दिने सिंह पर पूर्व सपा सरकार के दौरा कई ग्राम पंचायत के प्रधानों ने गाली देने और विकास कार्य न कराने का आरोप लगाया था। उस समय दिने सिंह से िकायत करने वाले प्रधानों के गांव वापस ले लिए गए लेकिन सपा सरकार में भी अपनी मजबूत पकड़ रखने वाले इस गाम पंचायत अधिकारी ने गांव नहीं छोड़े। सरकार बदलने के बाद दोबारा गांव छोड़ने का आदे आया। अब भाजपा नेता ने दबाव बनाया लेकिन इस बार दबाव नहीं चल सका। इससे भाजपा नेता फत्ते सिंह चिढ़ गए और बीडीओ से खुन्नस रखने लगे। फत्ते सिंह बीडीओ पर कई गलत कार्य करने का दबाव बना रहे थे। मंगलवार को जब बीडीओ अपने कक्ष में कुछ प्रधानों के साथ कानूनी काम निपटा रहे थे तब फत्ते सिंह पहुंचे और भद्दी-भद्दी गालियां देने लगे। उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार में मैं जो कहूंगा करना पड़ेगा वर्ना रह नहीं पायोगे। इसके बाद उन्होंने प्रधानों को दलाल बनाते हुए अपाब्द कहे। बीडीओ जब अपनी गाड़ी में बैठकर जाने लगे तो फिर फत्ते सिंह ने गालियां दी और कहा कि मेरे साथ पूरी टीम है। हम लोग लग जायेंगे तो यहां नहीं रह पाओगे। बीडीओ ने अपने उच्चाधिकारियों को मामले से अवगत करा दिया है। बुधवार को प्रधान संघ अध्यक्ष आोक त्रिवेदी के नेतृत्व में प्रधानों ने ब्लाक में बैठक की और भाजपा नेता फत्ते सिंह के विरूद्व निन्दा प्रस्ताव पारित किया और थाने में तहरीर देकर मुकदमा दर्ज करने की मांग की। देर रात भाजपा नेता पर एनसीआर दर्ज कर ली गई है।

 

भाजपा के नाम पर सक्रिय है गिरोह-

खीरों में भाजपा के नाम पर विभागों और अधिकारियों को उत्पीड़ित करने का एक गिरोह सक्रिय है। इस गिरोह के एक सदस्य पर सरकारी जमीन पर कब्जा करने का भी आरोप है। कोई कार्रवाई न हो इसके लिए भाजपा की आड़ ली जा रही है। इस गिरोह ने पहले सीएचसी अधीक्षक डा. यूसी वर्मा का शोषण करने की कोा की लेकिन जब कामयाब नहीं हुए तो सीएमओ पर दबाव बनाकर जबादल करा दिया जिस पर डाक्टर को हाईकोर्ट की शरण लेनी पड़ी। कई विभागों में दबाव बनाने के लिए इस गिरोह ने मंत्रियों से झूठी िकायतें भी की हैं। खुलेआम यह गिरोह धमकी देते है कि सरकार है जो चाहेंगे वह होगा।

खुद को भाजपा नेता बताने वाले फत्ते सिंह ने गन्दी-गन्दी गालियां देकर जान से मारने की धमकी दी है। मेरे कार्यालय में घुसकर सरकारी काम में बाधा पहुंचाने का भी प्रयास किया है। मैने उच्चाधिकारियों को तहरीर दी है। मुकदमा दर्ज कराया जायेगा

सभी आरोप बेबुनियाद-
मैने बीडीओ को कोई गाली और धमकी नहीं दी है। जो भी आरोप लगाये जा रहे हैं वह बेबुनियाद हैं। कोई गिरोह नहीं बना है। हम सब कार्यकर्ता हैं।

रिपोर्ट- अनुज मौर्य /धर्मेंद्र भारती

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY