भारी बारिश ग्रामीण क्षेत्रों का जीवन अस्त व्यस्त

0
87

झारखण्ड/धनबाद (ब्यूरो)- जिले में हो रही लगातार बारिश से लोगों की जिंदगी जहां थम सी गई है वहीं इसका सबसे ज्यादा प्रभाव ग्रामीण इलाकों में देखने को मिला | गोविंदपुर प्रखंड के बरवाअड्डा क्षेत्र के दर्जनों गांवों का संपर्क मुख्य पद से टूट जाने के कारण जहां-तहां लोग फंसे पड़े हैं।

आपको बता दें कि ऐसा ही नजारा मंगलवार को एनएच-2 बरवाडा से मात्र 2 किलोमीटर दूरी पर स्थित हरिया हरिया नदी का पानी फूल से करीब 3 फीट ऊपर पड़ने लगा जिसके कारण दोनों तरफ लोग हंस गए जो मैं बाजार से घर जा पा रहे हैं ना घर से बाजार लोगों ने बताया कि ऐसा बारिश करीब तीन दशक बाद देखने को मिला जिसके कारण दरिया का पानी इतनी ऊंचाई पर बह रही है कि लोगों को मालूम है आपकी इन्हीं पत्थरों से क्षेत्र के दर्जनों गांव के लोग रोजगार की तलाश में धनबाद जाते हैं लोग पानी घटने का घंटे से इंतजार कर रहे हैं ताकि पानी का खतरनाक बहाव कम हो और अपने गंतव्य की ओर जा सके।

97 में हो चूका है हादसा-
24 सितम्बर 1997 को इसी तरह आयी बाढ़ में यादवपुर जोरिया से पार करने के क्रम में बारिश के तेज बहाव में एक एस यू भी वाहन चालक सहित बह गया था सात दिनों के बाद चालक कासव गोविंदपुर में मिला था वही वाहन का पता आज तक नहीं चल पाया इस घटना को याद कर क्षेत्र के लोग अब सामने लगे हैं वही जनप्रतिनिधि एवं जिला प्रशासन इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है जिससे लोगों में आक्रोश बढ़ रहा है लोगों का स्पष्ट कहना है कि यही आलम रहा तो सुदूर ग्रामीण मजदूरी नहीं कर पाने के कारण दाने-दाने को मोहताज हो जाएंगे।

रिपोर्ट- संतोष कुमार राय

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here