भदोही : बीडीओ एक सम्भाल रहे दो ब्लॉक

0
90

भदोही (ब्यूरो)- ज़िले के ब्लॉक मुख्यालयों में बीडीओ की भारी कमी है। इसे स्थानांतरण नीति का दंश कह लीजिए या प्रशासनिक कमी, जिसका भुक्तभोगी कोनिया जैसे पिछड़े इलाके का ब्लॉक डीघ है। लगभग 6 माह से अतिरिक्त प्रभार व ज्वांइट बीडीओ के भरोसे ही कार्य चल रहा है। इस कमी के कारण योजना के संचालन में तमाम दिक्कतें सामने आ रहीं हैं।

जनपद का प्रमुख विकास खण्ड डीघ पिछले कई माह से खंड विकास अधिकारी की कमी से जूझ रहा है। वर्तमान में अभोली ब्लॉक के बीडीओ आजम अली को इस ब्लॉक का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है। इसके पूर्व भदोही ब्लॉक के बीडीओ महेश नारायण पाण्डेय को डीघ का ज्वाइंट बीडीओ बनाया गया था। दोनों ब्लॉकों में दूरी और समय ना दे पाने के वजह से विकास कार्य बाधित हो रहा है। यही कारण रहा कि पिछले दिनों अभोली ब्लॉक के निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी विशाख जी ने आवास की द्वितीय क़िस्त ना जारी करने पर फटकार भी लगाई थी।

इधर कार्ययोजना ना बनने से ग्राम पंचायतों का काम तो पूरी तरह से ठप पड़ गया है। प्रधानमंत्री आवास का पैसा अब तक लाभार्थियों के खाते में नही भेजा जा सका है। गांवों में मनरेगा का कार्य भी पिछले कई माह से पूरी तरह से बंद पड़ा था जो अब शासन के दबाव में धीरे धीरे प्रगति करता दिखाई दे रहा है।  अतः जब तक एक बीडीओ के माथे पर दो ब्लॉक का भार रहेगा,तब तक विकास कार्य इसी तरह बाधित होते रहेंगे। जानकारी के मुताबिक जिलाधिकारी शुक्रवार को डीघ ब्लॉक का निरीक्षण कर सकते हैं, इसे देखते हुए कर्मचारी फाइलों को सहेजने और समेटने में जुट गए हैं।

रिपोर्ट-रामकृण्ण पाण्ड़ेय

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY