स्वच्छ भारत का सपना अधूरा, विकास से कोसो दूर चंदाडीह पंचायत

0
150

प्रतीकात्मक
प्रतीकात्मक

बांका : बांका जिला के धोरैया प्रखंड के अंतर्गत चंदा डीह पंचायत के गांव में आज भी स्वच्छ भारत की सपना अधूरा है .लोगो के घरों में शौचालय का अभाव सहज ही दिखलाई पड़ता हैखासकर महिलाओं को शौच के लिए बाहर निकलने मे परेशानी का सामना करना पड़ता है, कुछ ही घरों मे शौचालय की व़्वस्था नजर आती है, ऐसे में स्वच्छ भारत की कल्पना कुंवर निर्मल ग्राम पंचायत की सपना आधी अधूरी ही दिखाई पड़ रही है |

यहॉ बता दे कि एक ओर सरकार विकास की ओर है वही इस पंचायत के लोग विकास से कोसो दूर नजर आ रही है.इससे स्पस्ट होता है कि सरकार की योजना हर घर शौचालय बनाने की है वह विफल नजर आ रही है.वहीं स्थानीय समाजसेवी सुनील कुमार सिंह ने शौच मुक्त पंचायत बनाने की मांग बीडीओ से की है ताकि कोई भी लोक शौच के लिए बाहर नहीं जाए, देखना है इस समस्या से कब निजात मिलती है, फिलहाल यहा के लोगों को या तो बाहर शौच करने की आदत है या मजबूरी |

रिपोर्ट – आशुतोष कुमार

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY