बिहार प्रदेश माध्यमिक शिक्षक शिक्षकेतर कर्मचारी महासंघ का एक दिवसीय अनुदान के बदले वेतन के लिए धरना प्रदर्शन किया

0
452

पटना (ब्यूरो)- आज दिनांक 25/11/2018 को पटना के गर्दनीबाग मे बिहार प्रदेश माध्यमिक शिक्षक शिक्षकेतर कर्मचारी महासंघ पुनाईचक पटना के आह्वान पर अनुदानित , प्रस्वीकृत एवं स्थापना की अनुमति प्राप्त माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक शिक्षकेतर कर्मचारियो ने अनुदान के बदले वेतन के लिए एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया । इसकी अध्यक्षता पटना जिला के अध्यक्ष अरूण कुमार पप्पू ने किया। विगत 30 वर्षो तक वित्तरहित माध्यमिक शिक्षा कर्मी वित्त रहित शिक्षा के तहत बिना वेतन के गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मे अहम योगदान दिया है।जब 26/03/2008 को राज्य सरकार द्वारा वित्त रहित शिक्षा समाप्त करते हुए शिक्षाकर्मियो को वेतन देने की घोषणा की , लेकिन छात्र छात्राओ के उतीर्णिता के आधार पर अनुदान देने लगी।जो शिक्षको के मौलिक अधिकार का हनन है।क्योकि 715 अनुदानित माध्यमिक विद्यालयो को पूर्णतः या अंशतः सरकार द्वारा वित्त रहित अधिग्रहण किया गया तब से सरकारी नियम के तहत सरकार के नियंत्रण मे ही इनका संचालन होता है।

एक तरफ राज्य सरकार राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान (श्रब समग्र शिक्षा योजना मे शामिल है )के तहत जनहित मे राज्य के हर पंचायत मे एक माध्यमिक विद्यालय खोलना चाहती है । सरकार के पास भूमि उपलब्ध नही है।सरकार वैसे विद्यालय को उत्क्रमित कर माध्यमिक विद्यालय बनानी चाहती है,जिनके पास जिनके पास भूमि,भवन, उपस्कर , आधारभूत संरचना एवं योग्य शिक्षक उपलब्ध नही है ।जबकि हम राज्य सरकार के इस योजना को साकार करने हेतु 715 माध्यमिक विद्यालय विभिन्न पंचायतो मे खुले है।

महासंघ यह निवेदन करता है कि उक्त विद्यालयो की भूमि महामहिम राज्यपाल के नाम से निबंधित है इस पर बने हुए भवन कार्यरत शिक्षक व कर्मी को सरकारी अनुदान तथा छात्रो को कोषागार के माध्यम से प्रोत्साहन व अन्य राशियो का भुगतान होता है।राज्य सरकार द्वारा मानक मंडल के तहत शिक्षक शिक्षकेतर कर्मचारियो का पद ,जांच, दंड, समय एवं छात्रो से लिए जाने वाले शुल्क व अवकाश का निर्धारण करती है।

अतः हमारी निम्न मांगो पर सकारात्मक विचार किया जाए।
मुख्य मांगे-
●अनुदानित माध्यमिक विद्यालयो के शिक्षक शिक्षकेतर कर्मचारियो को अनुदान के बदले वेतन दिया जाए।
●अनुदानित 715 विद्यालयो को समग्र शिक्षा योजना से जोड़ा जाए।
●अनुदानित माध्यमिक विद्यालयो मे कार्यरत अप्रशिक्षित शिक्षको को सरकारी खर्च पर प्रशिक्षित किया जाए।

बिहार प्रदेश माध्यमिक शिक्षक शिक्षकेतर कर्मचारी महासंघ के प्रान्तीय संयोजक राजकिशोर प्रसाद साधु ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि सरकार वेतन देने पर विचार नहीं करती है तो पूरे सूबे के प्रत्येक जिला मुख्यालयों पर 26/11/2018 को धरना एवं घेराव करने का निर्णय लिया है। इससे भी यदि मांगें पूरी नहीं होती है तो महासंघ सरकार के विरूद्ध जनता के बीच जाकर भंडाफोड़ करेगा।

इस आशय की जानकारी महासंघ के प्रधान प्रेस प्रवक्ता आशुतोष कुमार सिंह ने दी। प्रान्तीय संयोजक राजकिशोर प्रसाद साधु साधु , प्रधान प्रेस प्रवक्ता आशुतोष कुमार सिंह, धर्मेन्द्र कुमार ठाकुर , प्रधुमन्न कुमार सिंह, विनोद कुमार झा, अरूण कुमार पप्पू, अजित कुमार, कृष्ण नंदन, शैलेंद्र कुमार, प्रमोद कुमार सिंह, मुरारी मोहन, नागेश्वर बाबू, विजय कुमार सिंह, विनय कुमार सहित मौके पर सैकड़ों शिक्षक व शिक्षकेत्तर कर्मचारी उपस्थित थे।

रिपोर्ट- आशुतोष कुमार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here