भाजपा के प्रचार अभियान में उतरे चंचल, नाराजगी की बात पर लगा विराम

0
147

mlc vishal singh chanchal

गाजीपुर (ब्यूरो)- टिकट बांटवारे को लेकर एमएलसी विशाल सिंह चंचल की नाराजगी की बात पर विराम लग गया है। शनिवार को वह जमानियां विधानसभा क्षेत्र से पार्टी के प्रचार अभियान में शामिल हो गए। इससे जहां भाजपाई खुश हैं वहीं विरोधियों की उम्मीदों पर पानी फिर गया है। हालांकि भाजपा नेता भले कह रहे हैं कि चंचल की नाराजगी की बात बकवास थी लेकिन सच्चाई यही है कि चंचल नाराज थे। वह चाहते थे कि उनके रिश्तेदार डॉ.मुकेश सिंह को सदर अथवा जंगीपुर सीट से पार्टी मौका दे लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

उसके बाद चंचल के लोग चट्टी-चौराहे से लगायत सोशल मीडिया पर आग उगलने लगे। यह जरूर रहा कि खुद चंचल की कहीं कोई टिप्पणी नहीं आई। वह एकदम से चुप्पी साध लिए थे लेकिन पार्टी के उम्मीदवारो के नामांकन अथवा बूथ कार्यकर्ता सम्मेलनों में वह नहीं दिखे। बीते मंगलवार को रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा के दिवंगत अग्रज प्रवीण कुमार सिन्हा के वाराणसी में हुए त्रयोदशाह में चंचल पहुंचे। संभवतः टिकट बंटवारे के बाद दोनों नेताओं की वह पहली मुलाकात थी।

उसके बाद भाजपा के लोग उम्मीद जाता रहे थे कि चंचल की नाराजगी दूर हो गई है। वह पार्टी उम्मीदवार अलका राय मुहम्मदाबाद तथा रामनरेश कुशवाहा जंगीपुर के नामांकन में जरूर पहुंचेंगे लेकिन चंचल उस मौके पर चंचल नहीं दिखे लेकिन शुक्रवार को रेल राज्य मंत्री चंचल के वाराणसी स्थित व्यवसायिक प्रतिष्ठान पहुंचे। वहां दोनों नेताओं में अकेले में मंत्रणा हुई। उसके बाद चंचल के चेहरे पर संतुष्टि की रेखाएं दिखीं। चंचल श्री सिन्हा को उनकी गाड़ी तक छोड़ने आए और अब चंचल अपने लावलश्कर के साथ प्रचार अभियान में शामिल हो गए हैं। गौर करने की बात यह कि उन्होंने पार्टी के प्रचार अभियान की शुरुआत पूर्व मंत्री ओमप्रकाश सिंह के जमानियां से की है। मालूम हो कि वे एमएलसी चुनाव से पहले सपा में थे। वह सपा के टिकट पर एमएलसी चुनाव लड़ना चाहते थे लेकिन बात नहीं बनी थी।

तब वह माने थे कि पूर्व मंत्री ओमप्रकाश सिंह ने उनका पत्ता काटा। वह सपा से बगावत कर निर्दल एमएलसी चुनाव लड़े। उस चुनाव अभियान में जहां ओमप्रकाश सिंह चंचल पर हमलावर रहे वहीं चंचल भी जवाबी जुबानी वाण दागने से पीछे नहीं हटे थे। उस एमएलसी चुनाव की तल्खी चंचल के भाजपा में आने के बाद भी कायम है। भाजपा के चुनाव अभियान में चंचल के जुड़ने की चर्चा पर उनके प्रतिनिधि पप्पू सिंह ने कहा कि चंचल भाजपा में मौकापरस्ती के तहत नहीं आए हैं। वह जनसेवा और गाजीपुर के विकास के अपने संकल्प को पूरा करने के लिए भाजपा में शामिल हुए हैं।

रिपोर्ट-डा० विजय कुमार यादव
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here