बदस्तूर चलता है बालू का गोरखधंधा

0
54

दुमका (ब्यूरो) बालू माफिया के हनक के सामने सभी घुटने टेके हुए हैं बालू के गोरखधंधे में तमाम किस्म के लोग शामिल हैं, जिनके रसूख के सामने किसी की भी कुछ चलती नहीं है शासन प्रशासन का आदेश उनके सामने कोई महत्व नहीं रखता है वस्तुस्थिति यह है कि जरमुणडी प्रखंड में आज भी सभी बालू घाटों से बालू का अवैध धंधा निरंतर चल रहा है |

बालू की बढ़ती हुई जरूरतों को पूरा करने के लिए बालू माफिया रात भर बालू ढुलाई का काम करते रहते हैं और जरूरतमंदों को आसमान छूती कीमतों पर खरीदने के लिए मजबूर कर देते हैं स्थिति यह है कि जरमुणडी प्रखंड में एक ट्रेलर बालू की कीमत पंद्रह सौ रुपया है ज्ञात रहे कि शासन के द्वारा 10 जून से 15 अक्टूबर तक बालू की खुदाई डंपिंग और परिवहन पर पूर्णतया रोक लगा दी गई है फिर भी बालू माफिया प्रशासन को ठेंगा दिखा रहे हैं ।

रिपोर्ट – धनञ्जय कुमार सिंह

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY