पीएम मोदी की ललकार से हाहाकार, पूरी दुनिया में लग रहे चीन और पाक के विरोध में नारे….

0
11191

Balochistan
पीएम मोदी के द्वारा बलूचिस्तान का मुद्दा उठाये जाने के बाद से यह मामला तूल पकड़ता जा रहा है, एक तरफ जहां पाक यूएन से लेकर इस्लामिक देशों के संगठन तक कश्मीर मुद्दे पर भारत को घेरने के लिए गिड़गिड़ा रहा है वहीँ दूसरी तरफ दुनिया के अलग – अलग देशों में पाकिस्तान विरोधी नारे लग रहे हैं और लोग पीएम मोदी और भारत के समर्थन में सड़कों पर आ रहे हैं |

बलूच समर्थकों ने इसी क्रम में लंदन स्थित चीनी दूतावास के सामने कदम बढ़ाओ मोदी जी हम तुम्हरे साथ हैं जैसे नारे लगाकर चीन को भी पाक का समर्थक और मानवता का हत्यारा बताया है, नेता नूरदीन मेंगाल ने कहा कि पाकिस्तान और चीन की यही नीति है कि जो चीज छीन सकते हो उसे छीनों. बलोच नेता चाइना-पाक आर्थिक गलियारे(सीपीईसी) को लेकर प्रदर्शन करने पहुंचे थे. इस बीच चाइनीज थिंकटैंक ने बलूचिस्तान मामले में भारत को चेतावनी दी है |

इससे पहले जर्मनी में भी बलोच लोगों ने पाकिस्तान के खिलाफ नारेबाजी कर अपना विरोध प्रदर्शित किया था, पीएम मोदी द्वारा बलूचिस्तान का मुद्दा उठाये ज्जाने के बाद से पाकिस्तान आत्रिक संकटों से घिर गया है पिछले कुछ दिनों से बलूचिस्तान में पाकिस्तान के विरोध में प्रदर्शन और तेज हो गए हैं, बलूचिस्तान के साथ पाकिस्तान के सिंध प्रान्त के लोग भी पकिस्तान से आज़ादी की मांग कर रहे हैं, साथ ही उन्होंने पीएम मोदी से उनकी आज़ादी की लड़ाई में उनकी मदद करने की मांग की है |

पाक के साथ ही चीन के प्रति भी और बलोच और सिंध प्रांत के लोगों में आक्रोश है, बलूचिस्तान के लोगों ने साफ़ किया है कि वह चीन-पाक इकॉनोमिक कॉरिडोर को समर्थन नहीं देंगे और बलोच और सिंध लोगों के समर्थन के बिना यह कॉरिडोर नहीं बनाया जा सकता |

गौरतलब है कि यहां के लोग चीन और पाकिस्तान के आर्थिक गलियारे के विरोध में भड़क उठे हैं, भारत के साथ इस योजना के खिलाफ खड़े हो गए हैं, बीते गुरूवार को सिंध के कई छोटे बड़े शहरों और दूसरे देशों में बसे सिंध के लोगों ने विरोध प्रदर्शन किए, बता दें कि पाकिस्तान ने यहां पर चीन को बड़े पैमाने पर जमीन मुहैया कराई है जिस पर कथित तौर पर सीपीईसी बनाया जाना है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY