नगर में सफाई का आलम क्या है यह दर्शा रहे दोनों बोर्ड

0
41

हापुड़(ब्यूरो)-  नगर पालिका क्षेत्र में सफाई का क्या आलम है यह आप स्वयं देख सकते हैं एक ऐसा स्थान जहां पर दो – दो सभासदों के बोर्ड लगे हुए हैं लेकिन उन दोनों सभासदों के बोर्ड के नीचे ही नगरपालिका ने गंदगी इकट्ठी करनी चालू कर दी यदि सभासदों के बोर्ड के नीचे ही इतनी गंदगी है तो सोचो उन वार्डो के क्या आलम होगे। एक तरफ जहा नगर पालिका सफाई के दावे करती है स्वच्छ नगर वहीं यह फोटो दर्शाते हैं कि जहां सभासदों के बोर्ड भी गंदगी में लगे हैं बहा सफाई का क्या आलम होगा नगर पालिका अपने दावों की पोल स्वयं ही खोल देती है।नगर वासियों का कहना है कि वर्तमान नगर पालिका अध्यक्ष तानाशाह हो गए हैं।

वह सिर्फ रेलवे रोड श्रीनगर में ही सफाई का ध्यान देते हैं। नगर के अन्य मोहल्लों में गंदगी का यह आलम है कि वहां सफाई कर्मचारी भी माह में एक या दो बार जाते हैं और जगह-जगह कूड़े के ढेर इकट्ठा हो जाते हैं। आप स्वयं आकलन कर सकते हैं जहां दो सभासदों के बोर्ड के नीचे इतनी गंदगी है तो सोचो अन्य स्थान पर कितनी गंदगी होगी यदि नगर पालिका अध्यक्ष से इस बारे में कहा जाता है तो वह सफाई निरीक्षक पर बात टाल देते हैं। उनका नगर के अंदर सफाई का कोई ध्यान नहीं दे रहे हैं।

रिपोर्ट – मुकेश सैनी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here