पुलिसिया पूछताछ में थर्ड डिग्री के प्रयोग से युवक पहुंचा अस्पताल

0
54


इटावा (ब्यूरो) उत्तर प्रदेश के इटावा में देखिये पुलिस की हैवानियत, महज पूछताछ के शक में इस युवक को इतनी तगडी थर्ड डिग्री दी गई, कि यह युवक आज इटावा शहर के जे के हास्पीटल में जिन्दगी और मौत के बीच झूल रहा है । पुलिस की पिटाई से घायल हुआ यह युवक इटावा के जसवन्तनगर कस्बे का रहने वाला है और पेशे से हलवाई । इस युवक को जसवन्तनगर कोतवाली पुलिस ने गत 21 जुलाई को कस्बे से 22 दिन पूर्व गायब हुए ईट भटटा व्यवसायी भोले सिंह के मामले में पूछताछ के लिये बुलाया था । तब से यह युवक घर नही पंहुचा । जसवन्तनगर कोतवाली पुलिस से मिली थर्ड डिग्री से बुरी तरह मरणासन्न हुआ यह बालिस्टर सिंह नाम का युवक बता रहा है, कि थाने में उसे पुलिस ने बुरी तरह से पीटा । युवक का कहना है कि उसे पूछताछ के दौरान एसएसपी,डीएसपी और इन्स्पेक्टर जसवन्तनगर ने बुरी तरह पीटा है। पुलिस की इस हरकत से पीडित घायल युवक के परिजन बेहद खौफजदा हैं। इस युवक के परिजन बता रहे हैं कि पुलिस ने बालिस्टर सिंह को अस्पताल में भर्ती कराने की कोई भी सूचना उन्हें नही दी । इटावा के एसएसपी के पास इस मामले में साफ साफ कुछ भी बताने के लिये नही हैं। वो सिर्फ फिलहाल मामले में जांच कर दोषियों के खिलाफ जांच कर कार्यवाही करने की बात कह पा रहे हैं ।

यह है मामला
आपको बताते चले कि सभासद भोले यादव को लापता हुए एक महीने से ज्यादा हो गया है, लेकिन उसका अभी तक कोई सुराग नहीं मिला। लापता हुए सभासद भोले यादव अब पुलिस की गले की फांस बन चुके हैं। इस संबंध में पुलिस ने बालिस्टर यादव को हिरासत में लिया है । लेकिन पुलिस द्वारा पूछताछ के लिए बालिस्टर पर थर्ड डिग्री का इस्तेमाल करने पर पुलिस की कार्य शैली पर बड़ा सवाल पैदा करती है । लेकिन जब पुलिस ने भोले यादव का कोई शुराक लहीं लगा पाई तो वह जसवंतनगर के एक सीधे-साधे हलवाई को उठा के ले आई और उस पर थर्ड डिग्री का इस्तेमाल कर दिया । जिससे वह बुरी तरह से घायल हो गया था ।

शक के आधार पर पुलिस ने लिया हिरासत में
पुलिस ने बालिस्टर यादव को शक के आधार पर हिरासत में लिया था और मामले के संबंध में पूछताछ के लिए थर्ड डिग्री का इस्तेमाल किया। पुलिस द्वारा थर्ड डिग्री का इस्तेमाल करने से बालिस्टर यादव बुरी तरह घायल हुआ है और वो मौत और जिंदगी के बीच झूल रहा है। बालिस्टर यादव का आरोप है कि पुलिस के बड़े अधिकारी, एसएसपी, डीएसपी, क्राइम ब्रांच और थानेदार पर थर्ड डिग्री इस्तेमाल करने का आरोप लगाया है। बता दें कि बालिस्टर यादव पांच दिन से पुलिस कस्टडी में हैं और तब से ही उससे पूछताछ चल रही है। इस दौरान उसकी हालत बिगड़ गई। उसे एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
वही इटावा के एसएसपी ने बताया कि एक संवेदनशील प्रकरण के लिए बुलाया गया था , उसको बीपी का शिकायत था । इस लिए उसे हॉस्पीटल में भर्ती कराया गया है ।

रिपोर्ट – सुशील कुमार

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY