चीन को सबक सिखायें, चीनी सामान का करें बहिष्कार

0
54

ग़ाज़ीपुर (ब्यूरो) भारत तथा चीन में आपस में तनातनी व चीन द्वारा भारत के प्रति आक्रामक व अराजक रवैया अपनाने को लेकर देश में चीन के विरोध के स्वर मुखर हो गए हैं | अब लोगों ने भी चीन निर्मित सामानों का बहिष्कार करने का निर्णय लिया है | इस सम्बन्ध में असावर निवासी पूर्व सैनिक कमल राय ने कहा कि पाकिस्तान की आतंकी हरकतों का समर्थन करने वाले चाइना को यह सोचना चाहिए कि आज जो आर्थिक स्थिति मजबूत है, वह भारतीय बाजार के कारण है | उन्होंने कहा कि प्रत्येक भारत वासी का कर्तव्य है कि अपने दुश्मन को सबल बनाने वाले हर देश का बहिष्कार करे | उन्होंने कहा की आज से हमें चाइना की बनी हर वस्तुओं का बहिस्कार करना होगा ताकि चाइना की अर्थ व्यवस्था चरमरा जाय |

क़रीमुद्दीनपुर निवासी अजय गुप्ता ने व्यापारियों से चाइनिज सामानों के क्रय-विक्रय का सार्वजनिक रूप से बहिष्कार करने की अपील की | गांधी नगर जनता जनार्दन इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य डॉक्टर दिनेश सिंह ने कहा कि बाजार चाइनीज सामानों से भरा पड़ा है, चाहे बच्चों का खेलने का सामान हो या बिजली के उपकरण, खाने की चीजे या अन्य | देश के लोगों जागरूक करने की जरूरत है जिससे लोग दीपावली आदि त्योहारों पर चाइनीज सामानों का पूरी तरह बहिष्कार कर स्वदेसी का प्रयोग करे |

उन्होंने कहा कि चीन निर्मित झालरों की ही देन है कि मिटटी के दीपक अन्य सामानों की बिक्री बन्द होने से कुम्हारो का पुस्तैनी धन्धापुरी तरह ठप हो गया है | अब हमे शपथ लेनी है कि देश के बने सामान को ही खरीदेगे चाइना के सामानों का पूरी तरह बहिस्कार करेंगे | प्रमुख समाजसेवी श्रीमती मुन्नी त्रिपाठी ने कहा कि हमे चाइना निर्मित सामान खरीदना बन्द करना होगा जो पहले से मौजूद है उसकी चिता जलानी होगी नहीं तो हमसे कमाए हुए धन से पाकिस्तान का सहयोग कर आतंकवादी गतिविधियों को उकसाता रहेगा | अतः चीन निर्मित सामानों का बहिष्कार करने का निर्णय लिया है और देश के लोगो से भी चीन निर्मित सामान के बहिष्कार करने की अपील किया है |

रिपोर्ट – बृजा नन्द तिवारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here