बीएसए ने 5 विद्यालयों का किया निरिक्षण


बलिया (ब्यूरो)-
पठन-पाठन एवं अध्यापकों की उपस्थिति जांचने सोमवार को निकले बीएसए संतोष कुमार राय ने पांच विद्यालयों का निरीक्षण किया। इस दौरान बीएसए ने एक प्रभारी प्रधानाध्यापक समेत तीन शिक्षकों का अनुपस्थिति तिथि का वेतन रोकने का आदेश दिया। वहीं, रसोईयों की अनपुस्थिति पर सम्बंधित प्रधानाध्यापक से स्पष्टीकरण मांगा गया।

स्कूल परिसर में तम्बाकू सेवन की मनाही के बावजूद पान खाकर विद्यालय पहुंचे एक प्रधानाध्यापक को चेतावनी दी गयी, जबकि एक सहायक अध्यापक को सम्यक परिधान में विद्यालय आने को कहा गया। बीएसए सबसे पहले बेलहरी शिक्षा क्षेत्र अंतर्गत उप्रावि रूद्रपुर पहुंचे, जहां प्रभारी प्रधानाध्यापक सर्वानंद सिंह व अनुदेशक विश्वेश चौबे बिना किसी सूचना के अनुपस्थित पाये गये। यहां बच्चों से बीएसए ने हिन्दी ज्ञान का परीक्षण किया, जिसमें कुछ बच्चों का सही तथा कुछ का बेहद खराब मिला। यहां पांच रसोईया कार्यरत होने के बावजूद महज एक रसोईया उषा उपस्थित मिली। इस पर प्रधानाध्यापक से स्पष्टीकरण मांगा गया।

श्वेता पांडेय साढ़े आठ बजे उपस्थित हुई, जबकि प्रअ निर्मला गुप्ता अनुपस्थित पाई गयी। प्रअ ने फल लाने की वजह से विद्यालय विलम्ब से पहुंचने सम्बंधित स्पष्टीकरण दी। वहीं, सअ रेखा सिंह का अस्वीकृत आवेदन पत्र रखा था, किन्तु रजिस्टर में अंकित नहीं था। विद्यालय में 39 बच्चे अनुपस्थित मिले। यहां के सभी शिक्षिकाओं को चेतावनी दी गयी।

प्रावि शुक्लछपरा के प्रअ को विद्यालय में पान खाकर आने पर चेतावनी दी गयी, वहां सअ को सम्यक परिधान में विद्यालय आने को कहा गया। यहां नामांकित 156 में 105 बच्चें उपस्थित तो थे ही, टाई-बेल्ट से भी युक्त थे। साफ-सफाई व बेहतर भौतिक परिवेश के लिए समस्त शिक्षकों की सराहना की गयी। प्रावि रूद्रपुर में सअ रंभा गौतम अनुपस्थित मिली। यहां कक्षा पांच के अनूप पासवान एवं सुनील रावत का गणितीय ज्ञान बेहतर मिलने पर पुरस्कृत किया गया।

कस्तुरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय दुबहर की व्यवस्था खराब मिलने पर बीएसए ने सुधरने के लिए एक सप्ताह का अल्टीमेटम दिया। सुधार न होने की दशा में यहां बड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी गयी। निरीक्षण में बीएसए के साथ डीसी (प्रशिक्षण) कृपाशंकर पांडेय भी साथ रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here