जन कल्याणकारी के रूप में मनाया गया बसपा सुप्रीमो का जन्मदिवस

0
146

itahwa
कन्नौज : 2017 विधानसभा चुनाव तिथियों की घोषणा के बाद प्रदेश में अपनी खोयी जमीन को वापस पाने के लिए बसपा सुप्रीमो ने अपने 61 वे जन्मदिन की भले ही शाही अंदाज से न मनाकर सादगी से मनाकर प्रदेश की जनता को एक मैसेज देना चाहा हो लेकिन इसका जवाब तो 11 मार्च को ही सामने आएगा। सपा का गढ़ कहे जाने वाले कंन्नौज में सेंध लगाने के लिए तीनों विधानसभाओं से घोसित प्रतियाशियों ने भी बसपा सुप्रीमो के आह्वाहन पर उनके 61 वें जन्म दिन पर 61 किलो का केक काटकर जनकल्याणकारी दिवस के रूप में मनाया।

जिले की छिबरामऊ विधानसभा में बीएसपी कार्यकर्ताओ ने बसपा सुप्रीमो के 61 वें जन्म को जनकल्याणकारी के रूप में मनाया, इस मौके पर छिबरामऊ विधानसभा से बीएसपी प्रत्याशी ने बताया कि आज उत्तरप्रदेश की जनता को सिर्फ मायावती जी से ही उम्मीद है उन्होंने कहा कि प्रदेश की सपा सरकार सिर्फ गुंडागर्दी हुई है और अगर विकास हुआ है तो सिर्फ समाजवादियों का हुआ है।केन्द की सरकार ने देश की जनता को लाइन में लगा दिया।नोट बंदी के कारण न जाने कितने लोगो की मौत हो गयी है,किसान दाने दाने को मौतज़ हो गया जिसके घर में शादी या कोई बीमार है वो पैसो के लिए लाइनों में लगा है।आज उत्तर प्रदेश की जनता जान चुकी है कि उनको क्या करना है आज जनता की चाहत बहन कुमारी मायावती बन चुकी है।सपा में पिता पुत्र बच्चो की तरह लड़ रहे है उनको अपने हितों से मतलब है प्रदेश की जनता से उनको कोई लेना देना नही है।

रिपोर्ट – सुरजीत सिंह

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY